1969 में बैंकों के राष्ट्रीयकरण के बाद भारत के हर एक प्रधान मंत्री ने ‘प्रधान मंत्री बिजनेस लोन’ के नाम पर कुछ बैंक लोन योजना की घोषणा की है. ये गरीबी को कम करने और उन्हें गरीबी रेखा से ऊपर लाने का एक नायाब तरीका है. इसी क्रम को जारी रखते हुए हमारे वर्तमान प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने 2015 में प्रधान मंत्री मुद्रा लोन की घोषणा की|

बोलचाल की भाषा में इसे मोदी बिजनेस लोन के नाम से भी जाना जाता है. यहां हम मोदी बिजनेस लोन की मूल रूपरेखा के बारे में चर्चा करेंगे. कैसे यह स्कीम हजारों युवाओं और कई उद्यमियों के जीवन को बदल दिया है.

मुद्रा बैंक का उद्घाटन

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 8 अप्रैल 2015 को प्रधानमंत्री जन-धन योजना के तहत मुद्रा बैंक की शुरुआत की. 20,000 करोड़ रुपये की राशि के साथ शुरू, यह स्कीम खुदरे, विनिर्माण उद्योग, और सेवा क्षेत्र में छोटे बिजनेसमैन को 5.77 करोड़ की राशि देने का लक्ष्य रखता है.  

मोदी बिजनेस लोन के लिए कैसे करें आवेदन

आवेदन अब तक, मुद्रा बैंक एक पूर्ण बैंक नहीं है. यह एक लोन रिफाइनेंस एजेंसी के रूप में कार्य करता है. मुद्रा (MUDRA) का मतलब यहां Micro-Units Development और Refinance Agency से है. मोदी बिजनेस लोन का लाभ उठाने के लिए आप इनमें से किसी भी वित्तीय संस्थान से संपर्क कर सकते हैं.

  • अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक·
  • क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक·
  • अनुसूचित शहरी सहकारी बैंक·
  • राज्य सहकारी बैंक·
  • माइक्रो वित्तीय संस्थान
See also  MSME कारोबारियों को 59 मिनटों में मिलेगा 1 करोड़ रुपए तक का लोन

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंतरर्गत आने वाले लोन

मोदी बिजनेस लोन स्कीम निम्न तीन श्रेणियों के तहत लोन देता है.

  • शिशु योजना – स्टार्ट-अप बिजनेस के लिए 50,000 रुपये तक का लोन·
  • किशोर योजना – 50,000 रुपये से लेकर 5,00,000 रुपये तक का लोन·
  • तरुण योजना – 5,00,000 रुपये से लेकर अधिकतम 10,00,000 रुपये तक लोन

मोदी बिजनेस लोन के आवेदन के लिए योग्यता पात्रता

मोदी बिजनेस लोन स्कीम में निम्नलिखित पात्रता मानदंड शामिल हैं:

  • आवेदक केवल भारतीय नागरिक ही होना चाहिए·
  • सूक्ष्म और लघु-स्तरीय व्यवसाय, व्यक्तिगत या उपभोग की जरूरतों के लिए नहीं है·
  • अन्य खातों के लिए सामान्य केवाईसी अप्लीकेबल है.
  • अधिकतम लोन की राशि 10,00,000 रुपये.

मार्जिन/प्रमोटर

बैंकों को शिशु वर्ग के तहत लोन के लिए किसी भी मार्जिन पर जोर देने की आवश्यकता नहीं है. बैंक को मोदी द्वारा दूसरे बिजनेस लोन के लिए उनकी उधार नीति के अनुसार पर्याप्त मार्जिन निर्धारित करने की आजादी है.

ब्याज दर –बैंकों को अपने मानदंडों के अनुसार ब्याज का भुगतान करने की स्वतंत्रता दी गई है. लेकिन उन्हें यह तय कर लेना चाहिए कि अंतिम उधारकर्ता के लिए ब्याज की दर उचित हो.

सुरक्षा-मोदी बिजनेस लोन के लिए कोई कोलैट्रल प्राप्त करने की कोई आवश्यकता नहीं है.

See also  One Person Company क्या है और इसके लिए कैसे रजिस्टर करें?

निष्कर्ष-PMMY 40389854 मोदी बिजनेस लोन के साथ एक अभूतपूर्व सफलता रही है 09.03.2018 तक स्वीकृत मोदी बिजनेस लोन के तहत स्वीकृत राशि 198,711.79 करोड़ रुपए है.

नोट-

  • इस पोस्ट को इंग्लिश में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.
  • सोशल मीडिया पर हमसे जुड़ने के लिए फॉलो करें FacebookTwitter,  LinkedIn!

Related Posts

MSME Full FormMSME RegistrationCGTMSE
MSME LoanVAT RegistrationUdyog Aadhaar
GST RegistrationStand Up India SchemeCGTMSE Fee
Shop LoanWhat is CGSTDownload GST Certificate
PM SVAnidhi SchemeCancelled ChequeUPI Full Form
Business Loan EligibilityGST Full FormE-Way Bill Unblocking
CIN NumberGST LoginUAN Number