PMEGP (पीएमईजीपी) एक सरकारी रोजगार योजना है। PMEGP का फुल फॉर्म Prime Minister’s Employment Generation Programme – प्रधानमंत्री इम्प्लॉयमेंट जेनरेशन प्रोग्राम (PMEGP) है।

पीएमईजीपी योजना को हिंदी में प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम- Pradhan Mantri Rozgar Yojana के नाम से जाना जाता हैं। इस योजना के तहत एमएसएमई सेक्टर का स्वरोजगार करने के लिए बिना कुछ गिरवी रखे बिजनेस लोन कम ब्याज दर पर मिलता है।

आपको जानकारी के लिए बता दें कि अगर आपका कोई पहले से बिजनेस चल रहा है तो आपके बिजनेस का विस्तार करने के लिए और अन्य जरुरतों को पूरा करने के लिए देश की प्रमुख एनबीएफसी ZipLoan से 7.5 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन, बिना कुछ गिरवी रखे, सिर्फ 3 दिन* में मिल सकता है।

ZipLoan से मिलने वाले बिजनेस लोन 6 महीना बाद प्री-पेमेंट चार्जेस फ्री होता है और ब्याज दर बेहद कम होती है। लोन चुकाने के लिए 12 महीना से लेकर 36 महीना का समय मिलता है।

अभी बिजनेस लोन पाए

प्रधानमंत्री रोजगार योजना क्या है?

देश में अधिक से अधिक स्वरोगार हो और लोग नौकरी मांगने की बजाय नौकरी देने वाला बनें। इस लक्क्ष को लेकर केन्द्र सरकार आगे बढ़ रही है। प्रधानमंत्री रोजगार योजना –पीएमईजीपी भी इसी कड़ी का एक हिस्सा है।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत 2020 तक 14 लाख नया रोजगार सृजन करने की बात गई थी। इसके लिए 2,327 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत सर्विस सेक्टर में बिजनेस शुरु करने के लिए 25 लाख और मैनुफैक्चरिंग सेक्टर में बिजनेस शुरु करने के लिए 15 लाख रुपये तक बिजनेस लोन देने का प्रावधान किया गया है।

प्रधानमंत्री इम्प्लॉयमेंट जेनरेशन प्रोग्राम (पीएमईजीपी) लोन से जुड़ा हुआ एक सब्सिडी कार्यक्रम है। सीधी भाषा में कहें तो पीएमईजीपी योजना के तहत मिलने वाले बिजनेस लोन पर सरकार की तरफ से सब्सिडी दी जाती है।

पीएमईजीपी कार्यक्रम को सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय (एमएसएमई) भारत सरकार द्वारा लागू किया गया है। और इस योजना का पूरे देश में प्रचार – प्रसार करने की जिम्नेदारी खादी एवं ग्रामीण उद्योग आयोग (केवीआईसी) को दी गई है।

MSME लोन के लिए अप्लाई करें

खादी एवं ग्रामीण उद्योग आयोग (केवीआईसी) नोडल के तौर पर काम करती है। इसके साथ ही पीएमईजीपी योजना का राज्य के स्तर पर अनुपालन की जिम्नेदारी केवीआईसी, केवीआईबी एवं जिला उद्योग केन्द्रों को दी गयी है।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना मे किसे बिजनेस लोन मिलता है?

प्रधानमंत्री इम्प्लॉयमेंट जेनरेशन प्रोग्राम (पीएमईजीपी) के तहत उन लोगों को बिजनेस लोन सरकार द्वारा मुहैया कराया जाता है, जो लोग खुद का बिजनेस शुरु करना चाहते हैं।

हालांकि, इस योजना से बिजनेस लोन लेने की शर्त यह भी है की व्यक्ति जितना रकम बिजनेस लोन के तौर पर लेना चाहता है, उस पूरी रकम का 10% तक खुद लगाना होता है।

इसके अतिरिक्त इस योजना का लाभ लेने के लिए कुछ पात्रता मापदंड भी बनाया गया है। प्रधानमंत्री रोजगार योजना का पात्रता निम्नलिखित हैः

पीएमईजीपी योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए निम्न लोग और संस्थाएं पात्र होते हैं:

  • 18 वर्ष से अधिक का कोई भी व्यक्ति।
  • अभ्यार्थी पढ़ा लिखा हो- कागजी पढ़ाई 8वीं से अधिक की मान्य होती है। 8वीं या 8वीं से अधिक चाहें कितना भी अधिक पढ़ा – लिखा होने पर मान्य किया जाता है।
  • 10 लाख से अधिक वाली मैनुफैक्चरिंग सेक्टर की इकाई स्थापित करने के लिए तथा 5 लाख रुपये से अधिक का सर्विस सेक्टर का बिजनेस शुरु करने के लिए अभ्यार्थी का बीपीएक श्रेणी का होना अनिवार्य होता है।
  • वह सभी सेल्फ हेल्प ग्रुप (एसएचजी) जिन्हें किसी और योजना का लाभ न मिला हो, वह भी प्रधानमंत्री रोजगार योजना का लाभ उठाने के लिए पात्र होते हैं।
  • सोसायटी एक्ट 1960 के तहत पंजीकृत सोसायटी।
  • धर्मार्थ संस्था और सहकारी संस्थाएं।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना कितना लोन मिलता है?

पीएमईजीपी योजना के तहत अभार्थीयों 10 लाख रुपये तक का लोन मिलता है। लोन की ब्याज दर बेहद कम होती है और लोन चुकाने की अवधि 3 साल से 7 साल तक होती है।

हालांकि अभार्थी जितने रकम का बिजनेस प्रोजेक्ट बनाता है, उस बिजनेस प्रोजेक्ट कुल लागत का 10 प्रतिशत रकम अभार्थी को खुद वहन करना होता है और बाकी 90 प्रतिशत रकम लोन के रुप में मिलती है।

इसे भी जानिएः बिजनेस लोन प्रोजेक्ट कैसे बनाए

इसे एक उदारहण के तौर पर समझिएः राहुल को अपना बिजनेस शुरु करना है। राहुल ने प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत 10 लाख रुपया, बिजनेस लोन के लिए अप्लाई किया।

अब राहुल को 10 लाख तक का बिजनेस लोन प्राप्त करने के लिए खुद 10 लाख का 10% यानी 1 लाख रुपया खुद से लगाना होगा। और बाकी की रकम यानी 9 लाख रुपये पीएमईजीपी योजना के तहत बिजनेस लोन के रुप में मिलेगा।

प्रधानमंत्री रोजगार योजना में सब्सिडी

पीएमईजीपी लोन स्कीम में सरकार द्वारा 35% तक की सब्सिडी प्रदान की जाती है। हालांकि लोन पर सब्सिडी दो कैटेगरी में प्रदान की जाती है।

  1. ओपन कैटेगरी
  2. एससी, एसटी, विकलांग, महिला और रिटायर व्यक्ति

ओपन कैटेगरी में पीएमईजीपी लोन सब्सिडी

  • ओपन कैटेगरी के तहत ग्रामीण इलाकों में नया बिजनेस शुरु करने के लिए 25% तक की सब्सिडी का प्रावधान है।
  • अगर कोई व्यक्ति ओपन कैटेगरी के तहत शहरी इलाके में बिजनेस शुरु करना चाहता हैं, उनके लिए 15% सब्सिडी का प्रावधान किया गया है।

एससी, एसटी, विकलांग, महिला और रिटायर व्यक्ति कैटेगरी में पीएमईजीपी लोन सब्सिडी

  • अगर उद्योग/बिजनेस ग्रामीण क्षेत्र में शुरु किया जा रहा है, तो 33% सब्सिडी देने का प्रावधान किया गया है।
  • अगर उद्योग/बिजनेस शहरी क्षेत्र में शुरु किया जा रहा है, तो उसके लिए 25% सब्सिडी देने का प्रावधान किया गया है।

पीएमईजीपी लोन मंजूरी की प्रक्रिया

प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत बिजनेस लोन प्राप्त करने के लिए सर्वप्रथम किसी ऐसे बिजनेस को शुरु करने का ताना – बाना बुनना पड़ता है, जो पीएमईजीपी योजना के तहत रजिस्टर्ड हो। योजना के अंतगर्त बिजनेस लोन प्राप्त करने के लिए पीएमईजीपी ऑनलाइन आवेदन करना होता है।

पीएमईजीपी ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको प्रधानमंत्री रोजगार योजना की आधिकारी वेबसाइट लॉग इन करना होता है।

पीएमईजीपी ऑनलाइन आवेदन करने से पूर्व एक प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाना होता है। उस प्रोजेक्ट रिपोर्ट पर यह दिखाना होता है कि आप बिजनेस लोन की रकम का उपयोग कैसे करेंगे। अगर आप यह जानना चाहते हैं कि प्रोजेक्ट रिपोर्ट कैसे बनती है, तो इस लिंक https://kviconline.gov.in/pmegp/pmegpweb/docs/jsp/newprojectReports.jsp को क्लिक करें। यहां पर आपको सैकड़ो प्रोजेक्ट रिपोर्ट प्राप्त हो जाएगी।

केवीआईसी पीएमईजीपी योजना के लिए जरूरी कागजात

प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत बिजनेस लोन प्राप्त करने के लिए कुछ जरूरी कागजातों की जरूरत होती है। जरूरी कागजातों की लिस्ट निम्न है:

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • स्थाई निवास का प्रमाण पत्र
  • फोटो
  • शिक्षा प्रमाणपत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • प्रोजेक्ट रिपोर्ट
  • अनापत्ति प्रमाण पत्र (कारोबार अगर किराए के मकान में है तब, अगर जगह खुद की है तो जगह का मालिकाना हक़ का प्रूफ दिखाना होता है)

ZipLoan से बिजनेस लोन की पात्रता

  • बिजनेस 2 साल से अधिक पुराना हो
  • सालाना आईटीआर डेढ़ लाख से अधिक की फाइल होती हो
  • बिजनेस का सालाना टर्नओवर 10 लाख से अधिक हो
  • घर या बिजनेस की जगह में से कोई एक खुद के नाम पर हो (यह माता – पिता, भाई – बहन, पति – पत्नी, पुत्र – पुत्री के नाम पर भी हो, तो भी मान्य किया जाता है)

इसे भी जानिएः ZipLoan से बिजनेस लोन लेने के फायदे

ZipLoan से बिजनेस लोन के लिए जरूरी डाक्यूमेंट्स

  1. आधार कार्ड
  2. पैन कार्ड
  3. पिछले 9 महीने का बैंक स्टेटमेंट
  4. फाइल की गई आईटीआर की कॉपी
  5. घर या बिजनेस की जगह में से किसी एक के मालिकाना हक़ का प्रूफ (यह माता – पिता, भाई – बहन, पति – पत्नी, पुत्र – पुत्री के नाम पर भी हो, तो भी मान्य किया जाता है)

बिजनेस लोन के लिए अप्लाई करें