दिन – प्रतिदिन टेक्नोलॉजी उन्नत हो रही है। उन्नत होती टेक्नोलॉजी के चलते मनुष्य के दैनिक जीवन में भी अमूल – चूल परिवर्तन हो रहा है। हालांकि परिवर्तन से हमें घबराने की आवश्यकता नहीं होनी चाहिए। क्योंकि, परिवर्तन ही संसार का नियम है। लेकिन हमें इस बात का खास ख्याल रखना चाहिए कि हम परिवर्तित हो रहे समय से कहीं पीछे न छूट जाये। समय के साथ चलने के लिए अपनें उन सभी चीजों को अपनाने की आवश्यकता होती है जो मार्केट में नवीन होती है। ठीक यही थ्योरी कारोबार पर भी लागू होती है।

आपने देखा होगा कि जो पहले के दुकानदार हुआ करते थे, वह लोग कारोबार का हिसाब – किताब एक मोटे रजिस्टर पर दर्ज किया करते थे। उस रजिस्टर को कारोबार की भाषा में बही-खाता कहते हैं। किसी भी कारोबारी के बही-खाता में उस कारोबारी के कारोबार का पूरा हिसाब – किताब दर्ज हुआ रहता था।

इसे भी जानिएऑनलाइन बिजनेस शुरु करना चाहते हैं? जानिए 5 महत्वपूर्ण जानकारियां

इसको हम यूं भी कह सकते हैं कि कारोबारी अपना बही-खाता तय समय पर बिल्कुल मेंटेन रखते थे। लेकिन अब कई ऐसे डिजिटल डिवाइस आ गई हैं, जिनका उपयोग डिजिटल बही-खाता के तौर पर होता है। यह डिजिटल डिवाइस कारोबारी के मोबाइल फोन में ही एक ऐप के माध्यम से समाया रहता है। कारोबारी जब चाहता है तब अपना हिसाब – किताब मेंटेन कर लेता है।

कारोबारियों के दुनिया में हो रहे बदलाव की यह एक सिर्फ बानगी भर है। इसके अलावा कारोबारियों की दुनिया में बहुत कुछ बदल रहा है। कुछ बदलाव ई गति थोड़ी तेज है तो कुछ बदलाव की गति थोड़ी मध्यम। लेकिन बदलाव तो हो रहा है। इसका एक उदाहारण है- लालटेन। पहले खूब लालटेन बिना करती थीं। लेकिन जब से इलेक्ट्रानिक लाइट मार्केट में आई है, तब से लालटेन का उत्पादन ही बंद हो गया है।

See also  डिजिटल पेमेंट करने से इस तरह कम होता है टैक्स देने का बोझ!

तो जिस कारोबारी ने बदलाव को महसूस करते हुए लालटेन की जगह चार्जिंग लाइट बेचना शुरु कर दिया होगा, उसका बिजनेस आज सतत गति से चल रहा होगा। लेकिन, जिन कारोबारियों ने लालटेन को ही उजियारा का विकल्प समझा होगा और समय के साथ बदलाव में भागीदार नहीं हुए होंगे, उनका कारोबार आज की तारीख में बिना रौशनी का हो गया होगा। इसलिए, जो कारोबारी हैं, उन्हें इस बात का खास तौर पर ध्यान रखना चाहिए कि मार्केट में क्या नया आ रहा है और लोगों की जरूरतें कैसे पूरी की सकती हैं।

इसे भी जानिए: बिजनेस आइडिया को सफल बिजनेस में कैसे बदलें? जानिए

आज हम बात करने वाले हैं कुछ ऐसे बिजनेस के बारें में, जिन बिजनेस की मांग भविष्य में बहुत अधिक होने वाली है। मतलब आपको कुछ ऐसे बिजनेस के बारें में बतायेंगे जिन बिजनेस का भविष्य उज्जवल है।

भविष्य में इन बिजनेस का भविष्य का उज्जवल है

  1. ऑटोमोबाइल सर्विस सेंटर शुरु करने का बिजनेस (Automobile Service Station)
  2. फूड होम डिलीविरी का बिजनेस (Food Delivery)
  3. कैटरिंग बिजनेस (Catering Business)
  4. कुरियर सर्विस का बिजनेस (Courier Service)
  5. मोबाइल फूड ट्रक शुरु करने का बिजनेस(Mobile Food Truck)
  6. फैशनेबल कपडें बनाने का बिजनेस (Fashionable clothes making business)
  7. फेस मास्क बनाने का बिजनेस (Pollution Mask making business)
  8. इंटीरीयर डिजाइनिंग का बिजनेस (Interior Designing)
  9. मार्केट रिसर्च सर्विसेज शुरु करना ( Market Research Services)
  10. स्पोर्ट्स कोचिंग क्लासेस शुरु करना (Sports Coaching)
  11. सोशल मीडिया मार्केटिंग शुरु करने का बिजनेस (Social Media Marketing)
  12. स्कूल बिजनेस (School Business)
  13. सोलर उर्जा प्रोडक्ट बनाने का बिजनेस (Solar Energy Business)
  14. ब्यूटी पार्लर चलाने का बिजनेस (Beauty Parlor Business)
  15. वर्ल्चुअल असिसटेंट (Virtual Assistant)
  16. अगरबत्ती बनाने का बिजनेस (Business of making incense sticks)
  17. डिस्पोजेबल पेपर प्लेट बनाने का बिजनेस (Disposable Paper Plate Manufacturing)
  18. लैदर बैग बनाने का बिजनेस (Leather Bag Manufacturing)
  19. आर्टिफिशियल ज्वैलरी का बिजनेस (Business of artificial jewellery)
  20. फिटनेस से जुदा बिजनेस (Fitness-related business)
  21. कढ़ाई-बुनाई का बिजनेस (Embroidery-Knitting Business)
  22. ऑनलाइन कोचिंग देने का बिजनेस (Online Coaching Business)
  23. पैथोलॉजी सेंटर शुरु करना का बिजनेस
  24. 3D Printing का बिजनेस (3D Printing Business)
  25. मोबाइल ऐप्स बनाने का बिजनेस (Mobile Apps Business)
  26. वेबसाइट बनाने का बिजनेस (website making business)
  27. कोडिंग का बिजनेस (coding business)
  28. फर्नीचर उद्योग (Furniture Industry)
  29. प्लंबिंग उपकरण बनाने का बिजनेस (Plumbing Equipment Making Business)
  30. इलेक्ट्रिक उपकरण बनाने का बिजनेस (Electric appliance making business)
  31. फाइबर से बनी चीजें बनाने का बिजनेस (The business of making fiber products)
  32. लाइट/लैंप बनाने का बिजनेस (Light / Lamp making business)
  33. सीएफएल बनाने का बिजनेस (CFL Making business)
  34. कपड़े का निर्माण करने का बिजनेस (cloths making business)
  35. आइसक्रीम बनाने का बिजनेस (Ice-cream making business)
See also  TDS क्या है-TDS Kya Hai और क्यों कटता है? What is tds in hindi

इन सभी बिजनेस की मांग वर्तमान में तो है ही। इसके साथ ही आने वाले समय में इन बिजनेस की मांग बहुत अधिक बढ़ने वाली है। इसलिए जो लोग बिजनेस शरू करने के बारें में विचार कर रहे हैं, उन लोगों को इन बिजनेस में से ही किसी एक बिजनेस का चुनाव करना चाहिए। क्योंकि, इन सभी बिजनेस का भविष्य उज्जवल है।

पहले से बिजनेस कर रहे लोग क्या करें?

 बहुत से कारोबारी ऐसे हैं, जिनके पास पहले से ही कोई एक बिजनेस है। बिजनेस अच्छा चल भी रहा है। तो वह इस उधेड़बुन में फंस जाते हैं कि उनके पास तो पहले से ही एक सफल कारोबार है। वह भला क्यों इन चक्करों में पड़े? लेकिन हम जानकारी के लिए बताना चाहेंगे कि दुर्घटना से देर भली होती है। इसलिए जिन कारोबारियों के पास पहले से ही कोई बिजनेस है, और उस बिजनेस में अच्छी आमदनी हो रही है, तो भी वह कारोबारी इन बिजनेस में से कोई एक बिजनेस शुरु करके अपना बिजनेस विस्तार कर सकते हैं। इससे उन्हें यह फायदा होगा कि उनका मुनाफा दोगुना हो जायेगा।

इसे भी जानिए: सफल कारोबारी कैसे बने? जानिए 5 टिप्स

कई कारोबारी ऐसे भी होंगे, जो अपने पुराने बिजनेस के साथ इन बिजनेस में से कोई एक बिजनेस शुरु करना चाहते होंगे लेकिन उनके पास इतना पर्याप्त धन उपलब्ध नहीं होगा कि वह अपना बिजनेस बढ़ा सकें। लेकिन अब उन्हें भी घबराने की कोई बात नहीं है। क्योंकि बिजनेस बढ़ाने के लिए देश की प्रमुख नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी (एनबीएफसी) ZipLoan से मिलता है 7.5 लाख रुपये का बिजनेस लोन सिर्फ 3 दिन* में। ZipLoan से बिजनेस लोन प्राप्त करने के लिए कुछ भी गिरवी नहीं रखना होता है, इसके साथ ही बिजनेस लोन 6 महीने बाद प्री पेमेंट चार्जेस फ्री होता है।

See also  ई-वे बिल प्रणाली देशभर में 3 जून से होगी अनिवार्य, जानिए क्या है ई-वे बिल

अभी बिजनेस लोन पाए

इसे भी जानिए: ZipLoan से लोन लेने का फायदा क्या है? जानिए

Related Posts

MSME Full FormMSME RegistrationCGTMSE
MSME LoanVAT RegistrationUdyog Aadhaar
GST RegistrationStand Up India SchemeCGTMSE Fee
Shop LoanWhat is CGSTDownload GST Certificate
PM SVAnidhi SchemeCancelled ChequeUPI Full Form
Business Loan EligibilityGST Full FormE-Way Bill Unblocking
CIN NumberGST LoginUAN Number