2014 में मोदी सरकार बनने के बाद से ही महिला कारोबारियों के अच्छे दिन चल रहें है। महिलाओं के लिए बिजनेस करना आसान हो गया है। केंद्र की सरकार यानी नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार देश में उद्योग के बढ़ावा देने के लिए बहुत ही गंभीर है।

सरकार का मानना है कि देश में जितने अधिक कारोबार होंगे, जितने अधिक उद्योग होंगे उतनी ही बड़ी संख्या में रोजगार पैदा होगा। कारोबारियों के सहायता के लिए सरकार ने बहुत सी योजनाएं चलाई है, जिनका सीधा लाभ बिजनेस करने वालों लोगों को प्राप्त हो रहा है।

कुछ ऐसी योजनाएं है जिसने महिला कारोबारियों का लोन प्रदान करने में प्रमुखता प्रदान की जाती है। आइए देखते है कि महिला कारोबारियों के लिए कहा – कहा से बिजनेस लोन प्राप्त हो सकता है।

ZipLoan से बिजनेस लोन

महिलाओं द्वार संचालित बिजनेस को जब बिजनेस विस्तार की बात आती है, तो बहुत सारी दिक्कते एक साथ शुरू हो जाती है। उन्हीं दिक्कतों में सेस एक है, पैसों की समस्या। ZipLoan महिला कारोबारियों की इस समस्या को गंभीरता से समझता है, इसीलिए ZipLoan के तरफ महिला उद्यमियों को बहुत ही आसान शर्तों पर बिजनेस लोन प्रदान किया जा रहा है।

कोई भी महिला जो अपना खुद का बिजनेस चला संचालित कर रहीं है, और अपने बिजनेस का विस्तार करना चाहती है तो ZipLoan से ले सकती है सिर्फ 3 दिनों में 1 से 5 लाख तक का बिजनेस लोन ताकि महिलाओं के लिए बिजनेस करना आसान हो जाए।

ZipLoan बिजनेस लोन विशेषताएं:

  • लोन की रकम सिर्फ 3 दिन में
  • न्यूनतम कागजी प्रक्रिया
  • ज़ीरो प्री पेमेंट चार्जेस
  • बिना कुछ गिरवी रखे
  • लोन की मामूली योग्यता

बिजनेस लोन की शर्ते

  • बिजनेस 2 दो साल पुराना हो
  • बिजनेस का सालाना टर्नओवर 5 लाख हो
  • सलाना आईटीआर डेढ़ लाख से अधिक की फाइल होती हो

लोन लेने के लिए आपको कही जाने की भी जरूरत नही, बल्कि घर बैठे ZipLoan की वेबसाइट पर अप्लाई, सिर्फ 3 दिन में लोन प्राप्त कर सकते है। अभी अप्लाई करें।

अभी बिजनेस लोन पाए

मुद्रा योजना में भी महिलाओं की दी जाती है प्राथमिकता

भारत के युवा वर्ग को बिजनेस के तरफ ले जाने वाली यह प्रमुख योजना है। महिलाओं के लिए बिजनेस करने के लिए मुद्रा योजना में बहुत खास ख्याल रखा गया है।

योजना के तहत ऑर्गनाइज्‍ड यानी संगठित क्षेत्र (SMEs) में बिजनेस करने वाली महिला इस योजना से 50 हजार रूपये से लेकर 10 लाख रूपये तक के लोन प्राप्त कर सकती है। इस योजना का लाभ किसी भी बैंक में लिया जा सकता है। मुद्रा स्कीम में महिला कारोबारियों को बिना किसी गारंटर के लोन दिया जाता है।

महिलाओं के लिए खास है स्टैंड अप इंडिया योजना

सरकार का यह प्रयास है कि महिलाओं के लिए बिजनेस करना जितना अधिक आसान होगा, देश के हित में होगा। भारत सरकार द्वारा अनुसूचित जाति-अनुसूचित जनजाति और महिलाओं की बिजनेस में भागीदारी बढ़ाने के लिए चलाई जा रही है।

इस योजना के तहत महिला कारोबारियों को 10 लाख से 1 करोड़ तक बिजनेस लोन मिलता है। इस योजना की यह शर्त है कि कारोबार मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर का होना चाहिए।

स्टैंड अप इंडिया योजना का लाभ लेने के लिए अभ्यर्थी को स्टैंड अप इंडिया की वेबसाइट का जाकर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होगा।

स्टैंड अप इंडिया में ऑनलाइन फॉर्म भरते समय जिन कागजों की जरूरत पड़ती है, वह इस प्रकार के है:

  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बिजनेस प्रमाण पत्र एवं पता
  • पैन कार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र (अगर लागु हो तब)
  • पासपोर्ट आकार की फोटो
  • बैंक अकाउंट विवरण
  • पिछले भरा गया इनकम टैक्स रिटर्न
  • यदि बिजनेस किराये के मकान पर है तो रेंट एग्रीमेंट

अप्लाई करने के लिए https://www।standupmitra.in/ पर क्लिक कर फॉर्म भरना होगा, इसके बाद जैसी सूचना मिले उसके हिसाब से आगे कार्यवाई करते जाना होगा।