आज का दौर समानता का दौर है। अब हर स्तर पर यह प्रयास किया जा रहा है कि लिंग के आधार पर महिला और पुरुष में भेद-भाव न किया जाये। इसके लिए सरकार का प्रयास सराहनीय है। सरकार की तरफ से लंबे वक्त तक महीला – पुरुष में भेद न करने का अभियान चलाया गया।

हालांकि अच्छी बात यह है कि सभी के प्रयासो का सकारात्मक नतीजा दिखने लगा है। आज हर क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी बढ़-चढ़ कर हो रही है। महिलाएं आज कार चलाने से लेकर लड़ाकू विमान उड़ा रही हैं।

बिजनेस में महिलाओं की भागीदारी की बात करें तो आज की तारिख में छोटे बिजनेस से लेकर बड़ी मल्टीनेशनल कंपनीयों को सफलतापूर्वक चला रहीं हैं। आपको जानकर अच्छा लगेगा कि इंडिया टुडे जैसी मीडिया कंपनी का संचालन वर्तमान में एक महिला के हाथ में है।

महिलाओं के लिए लोन

इसी तरह छोटे एंव मध्यम यानी एमएसएमई कारोबार की बात करें तो महिलाओं की ऐसी बड़ी संख्या है जो एमएसएमई कारोबार का संचालन सफलतापूर्वक कर रही हैं। सरकार की तहफ से भी महिला कारोबारियों को बढ़ावा देने के लिए समय – समय पर सरकारी लोन योजनओं का संचालन किया जाता हैं।

सरकारी लोन योजना में महिला कारोबारियों को कम ब्याज दर पर बिजनेस लोन प्रदान किया जाता है। ताकि महिला कारोबारी अपने बिजनेस का संचालन बिना किसी रुकावट के कर सकें।

आइये इस आर्टिकल में आपको 7 ऐसे लोन सुविधा के बारें में जानकारी देते हैं, जो महिला कारोबारियों के लिए बेस्ट लोन सुविधा हैं।

महिला उद्यमियों के लिए लोन सुविधा 1: मुद्रा लोन योजना

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा शुरु की पीएम मुद्रा लोन योजना एमएसएमई कारोबरियों के लिए एक तरह का वरदान साबित हो रही है। खास बात यह है कि इस योजना का सबसे अधिक लाभ महिला कारोबारियों का मिला है।

इस योजना के बारें में यहां विस्तार से जानिएः महिलाओ के लिए मुद्रा लोन स्कीम

एमएसएमई मंत्रालय की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि मुद्रा लोन के लाभार्थीयों में हर तीन में सें एक लाभार्थी महिला कारोबारी है। पीएम मुद्रा लोन के तहत तीन कैटेगरी में 10 लाख रुपया नया बिजनेस शुरु करने के लिए और पहले से चल रहे बिजनेस का विस्तरा करने के लिए बिना कुछ गिरवी रखे बिजनेस लोन मिलता है।

2: बिजनेस का विस्तार करने के लिए ZipLoan का बिजनेस लोन

एमएसएमई कारोबार का विस्तार करने के लिए देश की प्रमुख एनबीएफसी ZipLoan कंपनी से 7.5 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन सिर्फ 3 दिन* में, बिना कुछ गिरवी रखे मिलता है। ZipLoan से मिलने वाले बिजनेस लोन की खास बात है कि यह बिजनेस लोन 6 महीने बाद प्री-पेमेंट चार्जेस फ्री होता है।

अभी बिजनेस लोन पाए

महिला उद्यमियों के लिए लोन सुविधा 3: उद्योगिनी योजना

उद्योगिनी योजना केन्द्र सरकार के निर्देशानुसार बैंकों द्वारा शुरु की गई योजना है। यह योजना सरकारी, प्राइवेट बैंकों के साथ ही नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी (एनबीएफसी) के द्वारा स्वतंत्र रुप से चलाई जा रही है।

उद्योगिनी योजना शुरु करने के पीछे मूल मकसद महिला सशक्तिकरण करना है। इस योजना के तहत उन महिलाओं को लोन मिलता है, जो महिलाएं खुद का कारोबार करना चाहती हैं। इस योजना में उन महिलाओं को भी लोन मिलता है, जिन महिलाओं का पहले से ही कोई कारोबार है।

इस योजना के बारें में यहां विस्तार से जानिएः उद्योगिनी योजना क्या है और लाभ कैसे मिलता है?

उद्योगिनी योजना में महिलाओं को न्यूनतम ब्याज दर पर अधिकतम 3 लाख रुपये तक का लोन मिलता है। इस योजना की खास बात यह है की अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति (एससी – एसटी) और शारीरिक रुप से अक्षम महिलाओं को ब्याज मुफ्त लोन दिया जाता है।

महिला उद्यमियों के लिए लोन सुविधा 4: महिला उद्यमी निधि योजना

पंजाब नेशनल बैंक द्वारा महिला कारोबारियों के लिए एक योजना शुरु की गई है। इस योजना का नाम महिला उद्यमी निधि योजना है। इस योजना के तहत उन महिलाओं को 10 लाख रुपये का बिजनेस लोन 10 साल के लिए प्रदान किया जाता है, जो महिलाएं खुद का कोई स्वरोजगार करना चाहती हैं।

इसे भी जानिएः कल्पना सरोज Kalpana Saroj: बाल वधू से करोड़पति कारोबारी बनने तक का सफर

इस योजना की खास बात यह है कि लोन की ब्याज दर बाकि लोन की अपेक्षा कम लागू होती है। और समय – समय पर ब्याज दरों में बदलाव होता रहता है। महिला उद्यमी निधि योजना के तहत लोन लेकर एमएसएमई सेक्टर का कोई कारोबार या डे-केयर सेंटर ब्यूटीपार्लर, ऑटोरिक्शा, टू व्हीलर या कार लेकर स्वरोजगार अपनाया जा सकता है।

5: पीएनबी की ब्यूटी सैलून खोलने के लिए बिज़नेस लोन योजना

पंजाब नेशनल बैंक यानि पीएनबी बैंक अपनी सामाजिक जिम्मेदारियां भी बखूबी निभाता है। पंजाब नेशनल बैंक द्नारा उन महिलाओं को बिजनेस लोन देने की योजना चल रही है, जो महिलाएं अपना ब्यूटी पार्लर सैलून शुरु करना चाहती है।

इस योजना में ब्यूटी पार्लर सैलून खोलने के लिए चरण दर चरण हेतु धन दिया जाता है। इस योजना में ब्यूटी पार्लर सैलून के निर्माण,सामान की खरीद, उपकरणों की खरीद करने के साथ ही वर्किंग कैपिटल मैनेज करने के लिए बिजनेस लोन प्रदान किया जाता है।

इस योजना की खास बात यह है कि यह बिजनेस लोन CGTMSE योजना के तहत मिलता है। जिसकी ब्याज दर 12% से शुरु होती है। लोन चुकाने के लिए अधिकतम 7 साल का समय मिलता है। इस बिजनेस लोन का लाभ 20 साल से 60 साल तक की उम्र वाली महिलाएं उठा सकती हैं।

महिला उद्यमियों के लिए लोन सुविधा 6: वैभव लक्ष्मी योजना

वैभव लक्ष्मी योजना को बैंक ऑफ बड़ौदा ने शुरु किया है। इस योजना के तहत महिलाओं को अपने बिजनेस की जरुरतों के साथ ही अपनी पर्सनल जरुरतों के लिए के लिए भी लोन असानी से मिल सकता है। इस योजना की खास बात है कि पर्सनल लोन लेने के लिए किसी गारंटर की जरुरत नहीं पड़ती है।

इसे भी जानिएः बिजनेस लोन लेकर शुरु किया कारोबार, आज दे रही हैं कई महिलाओं को रोजगार

वैभव लक्ष्मी योजना के तहत बिजनेस के लिए लोन लेने के लिए अपने अपने बिजनेस प्रोजेक्ट की रिपोर्ट बैंक में जमा करना होता है। अगर बैंक बिजनेस प्रोजेक्ट से सहमत हो जाता है तो सिर्फ एक गारंटर पर बिजनेस कि जरुरतों को पूरा करने के लिए असानी के साथ लोन मिल जाता है।

महिला उद्यमियों के लिए लोन सुविधा 7प्रधानमंत्री रोज़गार योजना

देश में बेरोजगारी कम करने के लिए केन्द्र सरकार की तरफ से हरसंभव प्रयास किया जा रहा है। इसी क्रम में एमएसएमई सेक्टर में बिजनेस शुरु करने के लिए कई लोन योजना का संचालन किया जा रहा है। : प्रधानमंत्री रोज़गार योजना भी उसी क्रम में शामिल है।

प्रधानमंत्री रोज़गार योजना के तहत पहले स्वरोजगार की ट्रेनिंग प्रदान की जाती है। इसके बाद खुद का स्वरोजगार करने के इच्छुक महिलाओं को सब्सिडी पर लोन प्रदान किया जाता है।

इस तरह के लोन की खास बात यह है कि स्वरोजगार की कुल रकम का 90 प्रतिशत तक लोन मिल जाता है और लोन वापस करने के लिए लंबा समय भी मिलता है।

इसे भी जानिएः बिजनेस विस्तार करने में शॉर्ट टर्म बिजनेस लोन है बहुत सहायक! जानिए कैसे?