मोदी सरकार 2.0 द्वारा इनकम टैक्स रिटर्न- income tax return फाइल करने की अंतिम तिथि बढ़ाकर 31 अगस्त कर दिया गया है (ITR फाइल लास्ट डेट बढ़ गई है)। पहले यह 31 जुलाई 2019 थी। बढ़ी डेट से कारोबारियों को राहत मिलने की उम्मीद है।

वित्त वर्ष 2018-19 के लिए CBDT डिपार्टमेंट यानी केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ने इनकम टैक्स रिटर्न- income tax return भरने वाले कारोबारियों को ITR फाइल करने की अंतिम तिथि बढ़ाकर राहत प्रदान करने का निर्णय किया है। CBDT डिपार्टमेंट यानी केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड वित्त मंत्रालय के अंतर्गत काम करने वाला डिपार्टमेंट है।

बढ़ी हुई तारीखों के अनुसार ITR फाइल लास्ट डेट क्या है?

ITR फाइल लास्ट डेट बढने के बाद बढ़ी हुई तिथि के अनुसार वित्त वर्ष 2018-19 के लिए कारोबारी अब 31 अगस्त तक बिना जुर्माना इनकम टैक्स रिटर्न- income tax return फाइल कर सकते हैं। दरअसल यह निर्णय चार्टर्ड अकाउंटेंट्स (सीए)/ टैक्स प्रैक्टिश्नर सोसाटियों की हस्ताक्षर द्वारा तिथि बढ़ाने के लिए की गई अपील के बाद आया है। एक्सपर्ट्स का मानना है कि इस निर्णय से करदाताओं को राहत मिलेगी।

2018-19 के लिए सोर्स से टीडीएस (TDS) का सर्टिफ़िकेट यानी फॉर्म 16 (Form 16) काफी लेट आने से ITR फाइल करने की अंतिम डेट बढ़ाने की मांग हो रही थी। CBDT डिपार्टमेंट द्वारा वित्त वर्ष 2018-19 के लिए नियोक्ताओं के लिये फार्म-16 जारी करने की आखिरी तारीख 25 दिन बढ़ाकर 10 जुलाई गई थी, जिससे वेतन-भोगी करदाताओं के पास 20 दिन में आईटीआर दाखिल करने का समय बचा था।

अब आपका PAN बताएगा कि आप Income tax act के नियमों का पालन कर रहे हैं या नहीं

डिपार्टमेंट यानी केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड द्वारा अंतिम डेट बढ़ाने की सूचना डिपार्टमेंट ने ट्विटर के मध्यम से दिया। 31 अगस्त के बाद ITR- income tax return फाइल करने वाले कारोबारियों को के बाद जुर्माना लगाया जा सकता है। लेट ITR फाईलिंग फीस के रूप में 10 हजार तक जुर्माना वसूल किया जाता है।

कैसे करें रिटर्न फाइल कैसे करें

किसी भी कारोबारी के लिए आईटीआर- income tax return (ITR) करना बहुत ही आसान है। आइये समझते हैं कि ITR फाइल करने का क्या तरीका होता है:

  • सबसे पहले इनकम टैक्स की वेबसाइट ओपन करें और e-file section पर जाइए। यहां अपने यूजर नेम और पासवर्ड एंटर कर लॉग इन करें।
  • अब आपको जो फॉर्म भरना हो यानी असेसेमेंट ईयर (आकलन वर्ष) को सलेक्ट करें और उसे भरें।

सरल तरीके से और स्टेप बाई स्टेप इनकम टैक्स रिटर्न (income tax return) E– Filing के बारे में जानने के लिए पढ़े- कैसे करें इनकम टैक्स रिटर्न E– Filing? जानिए 5 जरूरी बातें