किसान विकास पत्र 2019 योजना केन्द्र सरकार के माध्यम से चलाई जा रही है। यह योजना पोस्ट ऑफिस (Post Office) की छोटी बचत योजनाओं (Small Saving Schemes) में से एक है।

किसान विकास पत्र 2019 योजना (Kisan Vikas Patra)- (KVP) पैसा दोगुना करने वाली गारंटीड योजना है। इस योजना में पैसा जमा करने के बाद एक निश्चित समय के बाद रकम दोगुनी होकर मिलती है।

क्या है किसान विकास पत्र 2019 योजना

किसान विकास पत्र (Kisan Vikas Patra) यानी केवीपी (KVP) एक तरह से भारत सरकार का बांड हैं। यह पैसा इन्वेस्ट यानी निवेश करने की योजना है। इसमें पैसा इन्वेस्ट शुरु करने के बाद इन्वेस्ट सर्टिफिकेट- Investment Certificate प्रदान किया जाता है। किसान विकास पत्र योजना में बांड खरीदने की बात करें तो इस योजना बांड की कीमत 1000 रुपये से शुरु होती है। इसके बाद 1 हजार रुपये के गुणांक में चाहे जितना बांड खरीदा जा सकता है।

केंद्र सरकार के सहयोग से चलती है योजना

किसान विकास पत्र 2019 (Kisan Vikas Patra) योजना केंद्र की सहयोग से भारतीय डाक विभाग द्वारा चलाई जाती है। इसे पोस्ट ऑफिस (Post Office) संचालित करते हैं।

बांड क्या होता है

बांड एक सेक्युरिटी की तरह है। जब कोई व्यक्ति बांड खरीदता है तो वह इस बात पर सहमत होता है की बांड के बदले वह बैंक या सरकार को धन देगा और एक निश्चित समय पर निश्चित ब्याज प्राप्त करेगा।

See also  कोरोना वायरस के क्या हैं लक्षण और कैसे कर सकते हैं बचाव

कैसे खरीद सकते हैं किसान विकास पत्र 2019

किसान विकास पत्र खरीदने के 2 विकल्प हैं- ऑनलाइन और ऑनलाइन।

ऑफलाइन बांड कैसे खरीद सकते हैं?

किसान विकास पत्र में ऑनलाइन बांड खरीदने के लिए आपको अपने नजदीकी पोस्ट ऑफिस जाना होगा। पोस्ट ऑफिस पर बांड खरीदने के लिए एक फॉर्म भरना होगा और इसके बाद आपको बांड मिल जायेगा।

ऑनलाइन बांड कैसे खरीद सकते हैं

1 अप्रैल 2016 से किसान विकास पत्र ‘बांड’ ऑनलाइन (Online) भी मिलना शुरु हो गए हैं। ऑनलाइन बांड लेने के लिए भारतीय डाक विभाग की वेबसाइट https://www।indiapost।gov।in/VAS/Pages/Form।aspx पर जाकर बांड के लिए अप्लाई करना होगा।

कितना धन इन्वेस्ट करना होगा

धन इन्वेस्ट की बात करें तो सबसे कम 1 हजार रुपये से बांड खरीदा जा सकता है। अधिकतम रकम इन्वेस्ट करने की कोई सीमा नहीं है। लोग जितना भी चाहे रकम इनमें इन्वेस्ट कर सकते हैं।

ब्याज कितना मिलता है

किसान विकास पत्र (KVP) पर ब्याज दर (Interest Rate On KVP) की बात करें तो किसान विकास पत्र (KVP) के माध्यम से जमा की गई रकम पर सरकार (Government) 7।6 प्रतिशत सालाना की दर से ब्याज (Interest) दे रही है। इस ब्याज दर के हिसाब से किसान विकास पत्र (KVP) में जमा पैसा 113 महीने (9 साल, 5 महीने) में दोगुना (double) हो जाता है।

किसानों और दुकानदारों के आये अच्छे दिन, केन्द्र सरकार देगी पेंशन

बांड पर नॉमिनेशन की भी सुविधा उपलब्ध है (Facility of nomination)

किसान विकास पत्र खरीदने के साथ ही इसमें नॉमिनेशन की भी सुविधा प्रदान की जाती है। बांड खरीदते वक्त आप उनमें अपना नॉमिनी (Nominee) का नाम दर्ज करा सकते हैं। नॉमिनी (Nominee) वह व्यक्ति होता है, जिसे बांड खरीदने वाले व्यक्ति के न रहने पर किसान विकास पत्र (KVP) में जमा पैसा मिलता है।

See also  बजट 2020: क्या महंगा हुआ और क्या सस्ता?

नाम ट्रांसफर की सुविधा भी प्रदान की जा रही है

किसान विकास पत्र 2019 योजना में खरीदा गया बांड जरुरत पड़ने पर दूसरे व्यक्ति के नाम पर भी ट्रांसफर कराना भी संभव है। नाम ट्रांसफर करने के लिए बांड खरीदने वाले व्यक्ति को पोस्ट ऑफिस (Post Office) में जाकर एक आवेदन करना होता है।

पोस्ट ऑफिस ट्रांसफर की सुविधा भी प्रदान की जा रही है

अगर कोई बांड कही और की पोस्ट ऑफिस से खरीदते हैं और कुछ समय बाद आप वह स्थान छोड़कर कही और चले जाते हैं तो इस स्थिति में आप जहां जा रहे हैं वहां की पोस्ट ऑफिस अपना बांड ट्रांसफर कर सकते हैं।

समय से पहले बांड कैश कराने की भी सुविधा उपलब्ध है 

जरुरत पड़ने पर किसान विकास पत्र 2019 के बांड को समय से पहले भी कैश किया जा सकता है। हालांकि इसके लिए बांड को खरीदे हुए कम से कम ढ़ाई साल पहले खरीदा होना चाहिए।

किसान विकास पत्र 2019 खरीदते वक्त रखें कुछ सावधानियां  

किसान विकास पत्र (KVP) खरीदते वक्त कुछ सावधानियां जरुर रखना चाहिए। Kisan Vikas Patra (KVP) वैसे तो इसे अपनी सुविधानुसार किसी भी मूल्य-वर्ग (Denomination) पर खरीदा जा सकता है। लेकिन, अगर आप ज्यादा धन इन्वेस्ट (निवेश) (Investment) करना चाहते हैं, तो यह बेहतर रहेगा। इस योजना में कम मूल्य वर्ग के (Denominations) के बहुत सारे किसान विकास पत्र (KVP) बहुत खरीदना फायदेमंद रहेगा। ऐसा करना भविष्य के लिए बेहतर साबित होगा। जब पैसों की जरुरत पड़े तो एक- एक करके Kisan Vikas Patra  भुनाया जा सकता है।

See also  विकास दर: जीडीपी घटकर हुई 5 प्रतिशत! जानिए बिजनेस पर क्या पड़ेगा प्रभाव

कारोबार बढ़ाने के लिए ZipLoan से मिलता बेहद कम शर्तों पर बिजनेस लोन

फिनटेक क्षेत्र की प्रमुख NBFC यानी नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी ‘ZipLoan’ द्वारा सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम कारोबारियों को कारोबार बढ़ाने के लिए लोन बेहद कम शर्तों पर 1 से 5 लाख तक का बिजनेस लोन प्रदान किया जाता है।

ZipLoan से बिजनेस लोन पाने की शर्ते बहुत कम हैं:

  • बिजनेस कम से कम 2 साल पुराना हो।
  • बिजनेस का सालाना टर्नओवर कम से कम 5 लाख तक का होना चाहिए।
  • पिछले साल भरी गई ITR डेढ़ लाख रुपये की हो या इससे अधिक की होनी चाहिए।
  • घर या बिजनेस की जगह में से कोई एक खुद के नाम पर होना चाहिए।

ZipLoan से बिजनेस लोन लेने के कई फायदे हैं:

  • बिजनेस लोन  की रकम अप्लाई करने के सिर्फ 3 दिन के भीतर मिल जाती है। (यह सुविधा जरुरी कागजी दस्तावेजों को उपलब्ध रहने पर मिलती है)
  • लोन के घर बैठे ऑनलाइन अप्लाई किया जा सकता है।
  • बिजनेस लोन की रकम 6 महीने बाद प्री पेमेंट फ्री है।
  • लोन की रकम 6 महीने से लेकर 36 महीने के बीच वापस कर सकते है।

आपको यह लेख पसंद आया? इसे अपने सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर शेयर करें और  अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें। बिजनेस से जुड़ी कोई भी नई अपडेट या जानकारी पाने के लिए हमसे फेसबुकट्वीटर और लिंक्डन पर भी जुड़े।

Related Posts

MSME Full FormMSME RegistrationCGTMSE
MSME LoanVAT RegistrationUdyog Aadhaar
GST RegistrationStand Up India SchemeCGTMSE Fee
Shop LoanWhat is CGSTDownload GST Certificate
PM SVAnidhi SchemeCancelled ChequeUPI Full Form
Business Loan EligibilityGST Full FormE-Way Bill Unblocking
CIN NumberGST LoginUAN Number