GST लागू होने के बाद से देश भर ग्राहकों और व्यापारियों के लिए कई नियम बदल गए हैं। वैसे तो GST कानून में सामान्य श्रेणी के राज्यों में 20 लाख रुपये से अधिक तथा विशेष श्रेणी वाले राज्यों में 10 लाख रुपये से अधिक कारोबार वाले कारोबारियों को ही GST Registration अनिवार्य किया गया है। लेकिन मौजूदा सभी असेसीज को भी GST Registration कराना होगा। उन्हें GST के अंतर्गत Online Registraton करवाना पड़ेगा।

GST Registration

यह भी पढ़ें:- इस दीवाली महंगे इंपोर्ट से बुझा चाइनीज लाइटिंग का बाजार, चमकेगी भारतीय लाइटिंग बाजार की किस्मत

कैसे करें GST Registration-

भारत सरकार ने GST Registration के लिए छोटा सा ऑनलाइन प्रॉसेस रखा है। करोबारियों को रजिस्ट्रेशन के लिए GST की ऑफिशियल वेबसाइट gst.gov.in पर जाना होगा। वेबसाइट के होमपेज पर 2 विकल्प दिए गए हैं Taxpayers (Normal) और GST practitioners. अपना विकल्प चुनिए और Register Now पर क्लिक करिए। रजिस्ट्रेशन करने के पहले ही जरूरी दस्तावेजों को तैयार रखिए।

यह भी पढ़ें:- ग्राहकों को ब्याज में राहत देने में बैंक सुस्त, सुप्रीम कोर्ट ने RBI से मांगा जवाब

जरूरी दस्तावेज-

GST Registration कराने के लिए तीन चीजों- पैन नंबर, मोबाइल नंबर और ईमेल की जरूरत पड़ेगी। इसके अलावा डिजिटल हस्ताक्षर की जरूरत भी पड़ेगी। कॉमन पोर्टल (gst.gov.in) से इन तीनों के सत्यापित होने के बाद एक Log in मिलेगी। इसके जरिये आप कॉमन पोर्टल पर GST Registration के लिए फॉर्म भरकर जमा कर सकते हैं। फॉर्म भरते समय आप अपने पास कुछ जरूरी दस्तावेज भी रखें। इनमें कंपनी का पंजीकरण प्रमाणपत्र, बिजली बिल, बैंक स्टेटमेंट और पासबुक जैसे दस्तावेज शामिल हैं।

See also  छोटे कारोबारियों के लिए क्यों जरूरी है जीवन-बीमा पॉलिसी लेना?

3 दिन में मिल जाएगा GST नंबर

आवेदन जमा करने के तीन दिन के भीतर अगर अधिकारी कोई कार्रवाई नहीं करता है तो आपको स्वतः ही जीएसटी पंजीकरण मिल जाएगा। इस तरह तीन दिन के भीतर जीएसटी का पंजीकरण मिल जाएगा। GST Registration प्रमाणपत्र पर 15 डिजिटकी जीएसटी पंजीकरण संख्या दर्ज होगी। पहली दो डिजिट राज्य का कोड होंगी। अगली दस डिजिट पैन नंबर की डिजिट होंगी। इसके बाद दो डिजिट कारोबार करने वाली संस्था के कोड के रूप में होंगी तथा एक अन्य डिजिट चैकसम कैरेक्टर के रूप में होगी।

कैसे चेक करेंगे इसका स्टेटस

  • स्टेटस चेक करने के लिए भी gst.gov.in पर जाना होगा।
  • अब होमपेज पर दिए गए ‘Services’ विकल्प पर क्लिक करें।
  • Track Application Status पर क्लिक करें।
  • अपना ARN नंबर डाल दें, जो आपको ईमेल आईडी पर मिला होगा।
  • captcha भरें और सर्च बटन पर क्लिक करें।
  • एप्लिकेशन का स्टेटस आ जाएगा।

यह भी पढ़ें:- IMF ने GST की तारीफ करते हुए कहा- ‘GST की वजह से बढ़ सकती है भारत की ग्रोथ रेट’

जीएसटी के मसौदा नियमों के अनुसार पंजीकरण होने के बाद अधिकारी पंजीकृत कारोबार के स्थान का फिजिकल वेरिफिकेशन करेंगे और उसके जरूरी दस्तावेज तथा फोटोग्राफ वेरिफिकेशन होने के 15 दिन के भीतर कॉमन पोर्टल पर अपलोड करेंगे। कारोबारियों को कंपनी के बोर्ड और बिल पर जीएसटी नंबर का उल्लेख करना होगा।

See also  बिजनेस लोन मिलेगा अब आधार कार्ड से, जानिए कैसे?

Related Posts

MSME Full FormMSME RegistrationCGTMSE
MSME LoanVAT RegistrationUdyog Aadhaar
GST RegistrationStand Up India SchemeCGTMSE Fee
Shop LoanWhat is CGSTDownload GST Certificate
PM SVAnidhi SchemeCancelled ChequeUPI Full Form
Business Loan EligibilityGST Full FormE-Way Bill Unblocking
CIN NumberGST LoginUAN Number