कर्मचारियों के रिटायर्मेंट के बाद वित्तीय दिक्कदों से बचने के लिए एम्पलाई प्रोविडेंट फंड ऑर्गेनाइजेशन इंडिया (EPFO) का सृजन किया गया है। एम्पलाई प्रोविडेंट फंड ऑर्गेनाइजेशन इंडिया में कर्मचारियों की सैलरी का एक निश्चित हिस्सा पीएफ या ईपीएस के तौर पर कटता है।

कर्मचारी जब रिटायर होते हैं तब उन्हें वही पैसा एकमुश्त रकम के रुप में मिलता है। हालाँकि पीएफ और ईपीएस का पैसा कर्मचारी अपनी जरूरत के वक्त भी निकाल सकते हैं। जरूरत के वक्त पीएफ या ईपीएस से पैसा निकालने के लिए सिर्फ एक कंपोजिट क्लेम फॉर्म (CCF) जमा करना होता है।

EPFO में कर्मचारियों को यह सुविधा मिलती है कि वह तो अपने फंड का पैसा खुद प्राप्त कर सकते हैं। चाहें तो सुरक्षा ही लिहाज से अपने माता – पिता, भाई – बहन, पुत्र – पुत्री या किसी अन्य को भी नॉमिनेट कर सकते हैं।

पीएफ अकाउंट में किसी अपने को नॉमिनेट करने से यह फायदा होता है कि आपका पीएफ के रुप में कटा हुआ पैसा कभी जब्त नहीं होगा। जरूरत पड़ने पर नॉमिनेट व्यक्ति उस पैसों को निकाल सकते हैं। आइये इस आर्टिकल में समझते हैं कि पीएफ अकाउंट में किसी को नॉमिनेट कैसे करते हैं।

पीएफ अकाउंट में क्या नॉमिनेशन करना जरूरी है?

PF अकाउंट में नॉमिनेशन करना जरूरी नहीं होता है। लेकिन भविष्य के लिए यह बेहतर होता है। किन्हीं कारणों से अगर जिसके नाम पर पीएफ अकाउंट है वह व्यक्ति अपना पैसा प्राप्त करने के लिए उपलब्ध नहीं हो पाता है तब उस स्थिति में नॉमिनी व्यक्ति उस पीएफ अकाउंट का पैसा प्राप्त कर सकता है।

पीएफ में नॉमिनी कैसे जोड़ सकते हैं?

वर्तमान दौर ऑनलाइन का दौर है। ऑनलाइन के इस दौर में लगभग सभी कागजी प्रक्रिया ऑनलाइन हो है। ऐसे में EPFO इससे पीछे नहीं है। पीएफ में नॉमिनी का नाम ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से जोड़ा जा सकता है।

पीएफ अकाउंट में ऑफलाइन कैसे किसी नॉमिनी को जोड़ा जा सकता है?

PF अकाउंट में नॉमिनी का नाम ऑफलाइन दर्ज करने के लिए सबसे पहले अपने नजदीकी एम्पलाई प्रोविडेंट फंड ऑर्गेनाइजेशन (EPFO) के ऑफिस जाना होता है।

EPFO के कार्यालय से नॉमिनी फॉर्म लेकर उसे अच्छी तरह से भरना होता है। फॉर्म के साथ EPFO खाता से संबंधित कागजात अटैच करके फॉर्म EPFO कार्यालय में जमा कर देना होता है।

PF अकाउंट के लिए ऑनलाइन नॉमिनेशन इस तरह से होता है

कर्मचारी चाहें तो घर बैठे ऑनलाइन तरीके पीएफ अकाउंट के लिए ई-नॉमिनेशन किया जा सकता है। पीएफ के नॉमिनेशन प्रकिया को आसान करने के लिए कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने ई नॉमिनेशन की प्रक्रिया को लागू किया है। ऑनलाइन प्रकिया 15 से 20 मिनट में पूरी की जा सकती है।

पीएफ में नॉमिनेशन करने वाले कर्मचारियों को इस बात के लिए सबसे अधिक सतर्क रहना चाहिए कि नॉमिनेशन सही तरीके से हुआ है। नॉमिनी का नाम, पैन नंबर इत्यादि सभी कुछ ठीक से भरा होना चाहिए ताकि नॉमिनी को पीएफ का पैसा क्लेम करने में दिक्कतों का सामना न करना पड़े।

पीएफ खाता नॉमिनी जोड़ने के लिए सबसे पहले कर्मचारी के पास एक सक्रिय UAN नंबर होना चाहिए। दूसरी महत्वपूर्ण चीज जिस व्यक्ति को नॉमिनी बना रहे हैं उनका नाम और पैन नंबर पता होना चाहिए। ऑनलाइन पीएफ नॉमिनी जोड़ने के लिए सबसे पहले EPFO की आधिकारिक EPFO यूनिफाइड वेबसाइट पोर्टल https://unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface/ लॉग इन करना होता है।

वेबसाइट पर रजिस्टर्ड मेंबर आईडी से लॉग ऑन करके नॉमिनी को जोड़ा जा सकता है और नॉमिनेशन्स को बदल सकता है या नए लोगों का नॉमिनेशन किया जा सकता है। इसमें सिर्फ आधार नंबर की जरूरत होती है।

इसके साथ ही UAN को आधार नंबर से भी लिंक करना होगा। जो लोग अविवाहित हैं, वो अपने परिवार के सदस्यों को नॉमिनेट कर सकते हैं और शादी के बाद नॉमिनेशन को बदल सकते हैं।

ई-नॉमिनेशन की प्रक्रिया में एक व्यक्ति को अपने एम्पलोयर के जरिए कुछ करने की जरूरत नहीं है। नॉमिनेशन खुद से बदले या जोड़े जा सकते हैं। आप नॉमिनेट किये गए व्यक्ति का नाम भी चेक कर सकते हैं।

ये कुछ जरूरी बातें हैं जो ई नॉमिनेशन की प्रक्रिया शुरू करने से पहले ध्यान रखनी चाहिएं:

  • लॉग इन करने के बाद आपसे यह पूछा जा सकता है कि आपको ई नॉमिनेशन पेज पर जाना है या आप टॉप पैनल पर ‘मैनेज’ को क्लिक करके फिर ‘ई नॉमिनेशन’ पर क्लिक करके पेज पर जा सकते हैं।
  • अगले पेज में कुछ बेसिक जानकारी होगी जिसमें से कुछ को आप बदल सकते हैं।
  • नॉमिनेशन डिटेल्स भरने के लिए आगे बढ़ने से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि आपने ‘प्रोफाइल सेक्शन’ में दी गई फील्ड्स को पूरा भरा है। इसमें आपको अपनी फोटो अपलोड करनी है। अपने घर का पता बताना है। और यह बताना है कि आप विवाहित हैं या अविवाहित।
  • उसके बाद आपको जिस व्यक्ति को आप नॉमिनेट कर रहे हैं, उसकी डिटेल्स भरनी हैं, जो इस प्रकार हैं:
  1. व्यक्ति का आधार नंबर
  2. व्यक्ति का नाम
  3. व्यक्ति के जन्म की तिथि
  4. व्यक्ति का लिंग
  5. व्यक्ति से आपका संबंध
  6. व्यक्ति का पता और फोन नंबर
  • आप अगर चाहें तो जिनको आप नॉमिनेट कर रहे हैं, उनकी बैंक डिटेल्स भी डाल सकते हैं। यह ऑप्शनल है। फोटोग्राफ डिजिटल कैमरा से खींची हुई होनी चाहिए और फोटो का साइज 3.5 cm x 4.5 cm और चेहरा इमेज के 80 फीसदी में साफ दिखना चाहिए।

आपको जानकारी के लिए बता दूं की पीएफ अकाउंट से नॉमिनी को जोड़ने के लिए मोबाइल नंबर आधार से लिंक होना जरूरी है।

अपने नॉमिनेशन्स की डिटेल ऑनलाइन भरने के बाद व्यक्ति को डिजिटल सिग्नेचर करने होंगे। नॉमिनेशन फॉर्म को डिजिटल साइन करने के बाद आधार के जरिए ई साइन ओटीपी के माध्यम से पूरा होगा।

जब चाहें तब पीएफ से पैसा निकाल सकते हैं

EPFO द्वारा पीएफ अकाउंट में इसलिए जमा किया जाता है ताकि कर्मचारी को उनके रिटायर्मेंट के बाद एकमुश्त रकम मिल सके। लेकिन कर्मचारी जब चाहें तब अपने पीएफ अकाउंट से पैसा निकाल सकते हैं।

ऑनलाइन पीएफ अकाउंट से पैसा निकालने के लिए पिछली कंपनी/संस्थान में वेरिफिकेशन के लिए जाने की ज़रूरत नहीं होती है। हां ऑफलाइन आवेदन के मामले में आपको कंपनी/संस्थान से दस्तावेज अटेस्ट कराने पड़ते हैं।

पीएफ अकाउंट से पैसा निकालने के बारें में और अधिक जानकारी के लिए पढ़े: EPFO: PF या EPS से पैसा निकालने के लिए कैसे भरा जाता है कंपोजिट क्लेम फॉर्म? जानिए