वर्तमान में हमारे देश के बड़े शहरों में ढेरों कोरियर कंपनी काम कर रही हैं और इससे वे अच्छा-खासा मुनाफा भी कमाती हैं। मगर छोटे शहरों में कोरियर कंपनियां उतना अधिक मुनाफा नहीं कमा पाती हैं। सर्विस सेक्टर के बिजनेस में कोरियर सेवा का काफी बड़ा मार्केट है। कोरियर सेवा एक ऐसा बिजनेस है, जो आपको कम लागत में ज्यादा मुनाफा प्रदान करता है।

कोरियर कंपनी को ऐसे बढ़ाएं

यह भी पढ़ें:- कैसे छोटे व्यवसायियों को बिजनेस लोन के लिए NBFC है बैंको से बेहतर विकल्प

फ्रेन्चाइजी के लिए करें अप्लाई-

अगर आपकी कोरियर कंपनी को आपकी उम्मीदों के अनुसार मुनाफा नहीं हो पा रहा है, तो आप किसी बड़ी कोरियर कंपनी की फ्रेन्चाइजी ले सकते हैं। फ्रेन्चाइजी लेने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आपकी कोरियर कंपनी के साथ एक बड़ी कंपनी का नाम जुड़ जाता है। जिससे कि ग्राहक का विश्वास आपके साथ जुड़ जाता है। DTDC जैसी बड़ी कोरियर कंपनी अपनी फ्रेन्चाइजी देती है। जिससे कि आप अपने बिजनेस को बढ़ा सकते हैं।

यह भी पढ़ें:- चाणक्य की इन बिजनेस नीतियों से अपने बिजनेस को सफल बनाइए

ऑनलाइन शॉपिंग ने बढ़ाई मांग-

पिछले कुछ सालों में कोरियर सेवा के बिजनेस में काफी सकारात्मक वृद्धि हुई है। ऑनलाइन शॉपिंग ने कोरियर सेवा के बिजनेस को एक नया आयाम दिया है। ऑनलाइन शॉपिंग के कारण देश में कोरियर सेवा की मांग बढ़ गई है।

कोरियर बिजनेस का मार्केट-

भारत में अगर कोरियर इंडस्ट्री की बात करें तो साल 2015-16 के आंकड़ों के मुताबिक कोरियर इंडस्ट्री को लगभग 14,000 करोड़ रुपये आंका गया था। जबकि तब तक ऑनलाइन शॉपिंग का विस्तार कुछ खास चुनिंदा शहरो में ही हुआ था। इसीलिए साल 2019-20 तक इस इंडस्ट्री के 20,000 करोड़ रुपये तक पहुंचने का अनुमान है।

यह भी पढ़ें:- आसानी से बिजनेस लोन पाने के टिप्स

बिजनेस लोन से बढ़ाएं बिजनेस-

आप अपनी कोरियर कंपनी के लिए बिजनेस लोन भी अप्लाई कर सकते हैं। जिसकी सहायता से आपको कार्यकारी पूंजी मिल जाती है। इसके साथ ही आप बिजनेस लोन लेकर किसी बड़ी कंपनी की फ्रेन्चाइजी भी ले सकते हैं। बिजनेस लोन आपके कोरियर बिजनेस को आगे बढ़ाने में एक महत्वपूर्ण योगदान दे सकता है।