बिजनेस में अक्सर ऐसा होता है कि बिजनेस लोन की आवश्यकता पड़ती ही है। बिजनेस करने वाले लोग बिजनेस लोन लेते है। लेकिन कभी – कभी किन्ही कारणों से लोन समय पर वापस नही हो पाता तो अगली बार लोन लेने में दिक्कतों का समाना करना पड़ता है। कभी व्यक्ति के समय पर लोन न चुकाने पर सिबिल कम हो जाता है तो कभी – कभार बैंक के गलती के कारण भी कम हो जाता है। यहां यह स्पष्ट कर देना उचित है कि बिजनेस लोन आप कम सिबिल स्कोर (CIBIL Score) पर भी प्राप्त कर सकते है। ZipLoan व्यापारियों की जरूरतों को समझते हुए उन्हें मात्र 72 घंटों के अंदर ही अंदर 1 से 5 लाख तक का बिजनेस लोन प्रदान कर रहा है। यह लोन न्यूनतम कागजों पर तथा बिना कुछ गिरवी रखे है। अगर आपको बिजनसे लोन की जरूरत है तो तुरंत अप्लाई करेंअक्सर व्यापरियों को यह सवाल परेशान करता है की सिबिल हटाने का तरीका क्या है? लोन के लिए सिबिल कैसे मेंटेन किया जा सकता है? आइए इसके बारे में समझते है।

loan without security

सिबिल होता क्या है

अगर आपने पहले लोन लिया होगा तो सिबिल के बारे में जानते होंगे। इसे कम शब्दों में समझते है। सिबिल एक तरह से कस्टमर का क्रेडिट स्कोर होता है। इससे पिछले कर्ज के बारे में जानकारी मिलती है। अगर पिछला कर्ज समय से चुकाया गया होगा तो यह सिबिल स्कोर अच्छा दिखेगा। किन्ही कारणों से समय से कर्ज नहीं चुकाया गया होगा तो यह कम दिखेगा। सिबिल स्कोर कुल 300 से 900 के बीच होता है और इसे 750 से अधिक होने पर अच्छा माना जाता है। इसका हिसाब 2 साल यानी 24 महीने के कर्ज की हिस्ट्री के अनुसार बनता है।

जरूरत के मुताबिक ले लोन

अपनी क्रेडिट यानी सिबिल मेंटेन करने के सबसे अच्छे तरीके में शामिल है, जरूरत के मुताबिक लोन लेना। लोन लेने से पहले आप यह विचार करें की आपको कितने रकम की जरूरत है। इसके बाद जब आप आश्वस्त हो जाएं की आपको अमुख रकम की जरूरत है इसके बाद उसमे 5 या 10 हजार बढ़ाकर लोन ले सकते है। इससे आप बाकि रूपये पर लगने वाले ब्याज से बच जायेंगे और समय से कर्ज वापस कर सकते है।

कर्ज वापसी का विकल्प रखें तैयार

अक्सर व्यापारी लोन तो ले लेते है लेकिन उसके वापस करने का विकल्प तैयार नहीं रखते, जिससे उनको परेशानी का सामना करना पड़ता है। यह विकल्प ऐसे भी हो सकता है की अपने मुनाफे का एक हिस्सा निश्चित कर सकते है की उसे कर्ज वापसी के लिए ही इस्तेमाल करेंगे। दूसरा तरीका यह भी हो सकता है की अगर आपके पास आय के कई साधन हो तो उसे उसमे से एक आय के साधन को कर्ज वापसी के लिए इस्तेमाल कर सकते है।

अगर बैंक की गलती हो तो, यह करें

कभी – कभी ऐसा भी होता है की आप अपनाकर्ज समय पर भरते रहते है लेकिन बैंक की गड़बड़ी के वजह से आपका सिबिल स्कोर कम दिखाई पड़ने लगता है। इस कंडीशन में आपको बैंक के नोडल ऑफिसर को लिखित में शिकायत करना होगा। इसके अलावा आपको सिबिल की वेबसाइट पर डिस्प्यूट रिक्वेस्ट फॉर्म भरना होगा। अगर इसके बाद भी आपके शिकायत पर कोई कार्यवाई नहीं होती तो आप बैंकिंग के लोकपाल www.bankingombudsman.rbi.org.in पर जाकर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते है।

बहुत सारे लोन एक बार में न लीजिए

कई लोग ऐसा करते है की एक बार में बहुत सारे लोन जैसे होम लोन, पर्सनल लोन, उपकरण लोन इत्यादि ले लेते है। लेकिन ऐसा करना खुद को परेशानी में डालना होता है। ऐसा इसलिए भी नहीं करना चाहिए की हो सकता है कभी किसी लोन की EMI छूट जाए या लेट हो जाए, तो सिबिल खराब होने का डर बना रहेगा। इससे बचने के लिए कोशिश करें की एक समय में एक या अधिकतम 2 लोन ही ले।

पुराने कर्ज क्लियर कर दे

कई बार ऐसा भी होता है की अगर एक लोन की रकम बकाया हो तो दूसरा लोन देने से बैंक बचने लगते है, और पहले कर्ज की समय से पेमेंट न होने पर सिबिल भी खराब होने का संभावना होती है। इससे बचने के लिए पहले से लिए गए लोन का क्लियर कर ही दुसरे लोन के तरफ बढ़ना चाहिए।

ऊपर बताए गए तरीकों को अपना कर कोई भी अपना सिबिल मेंटेन कर सकता है। इसके बाद भी जब बैंक लोन देने से मना कर दे तो दुसरे बैंकों में भी आवेदन कर सकते है। अपेक्षाकृत ग्रामीण बैंक कम शर्ते रखते है। अगर आप बिजनेसके लिए लोन चाहते है तो ZipLoan से बिना कुछ गिरवी रखे मात्र 72 घंटे में बिजनेस लोन प्राप्त कर सकते है।

यह भी पढ़ें:- जाानिए क्यों है आपका सिबिल स्कोर लो और कैसे करें इसमें सुधार