बहुत कम लोगों को पता होगा की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 24 घंटे में से 18 घंटे तक काम करते हैं। वह वर्तमान में 68 साल के हैं लेकिन कार्य करने का अंदाज और जोश में किसी भी युवा से कम नहीं है। कार्य के प्रति समर्पण के चलते ही उन्होंने चाय बेचने से लेकर भारत का दो बार प्रधानमंत्री बनने तक का सफर तय किया है।

नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने से पहले के राजनीतिक अनुभवों की बात करें वह 13 साल यानी 3 बार गुजरात के मुख्यमंत्री रह चुके है और अभी दूसरी बार उन्हें भारत का प्रधानमंत्री चुना गया है। नरेंद्र मोदी की कुशलता और जनता के प्रति आकर्षण का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है की लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी के उम्मीदवार  चुनाव तो पूरे देश में लड़ रहे थे लेकिन वोट सभी नरेंद्र मोदी के नाम पर मांग रहे थे।

मोदी जी में कुछ तो ऐसी खूबियां हैं जिससे उनका नाम देश के हर नागरिक के मुंह पर होता है। खूबियां ही तो मार्केटिंग होती हैं, ब्रांडिंग होती हैं। इन्हीं सब खूबियों को कोई कारोबारी अपने व्यक्तित्व में उतार ले तो उसे सफल होने से कोई रोक नहीं सकता है। आइए समझते हैं नरेंद्र मोदी में ऐसी कौन- कौन खूबियां है जिन्हें कारोबारियों को अपनाना चाहिए।

नरेंद्र मोदी की वह खूबियां जिनका कारोबारी कर सकते हैं इस्तेमाल

किसी भी प्रोडक्ट को बेचने के लिए क्या चाहिए होता है? इस सवाल सीधा सा उत्तर है- प्रोडक्ट की सादृश्यता, प्रोडक्ट की इमेज बिल्डिंग, प्रोडक्ट की पॉजिटिव मार्केटिंग और प्रोडक्ट को बेचने की कला। अगर किसी भी कारोबारियों ये सभी खूबियां होती है तो उनका बिजनेस सफल होना तय है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वह खूबियां निम्न हैं जिसे हर कारोबारी को सीखना चाहिए।

  • ब्रांडिंग में माहिर होना
  • जनसंपर्क/मार्केटिंग
  • समय का पाबंद होना
  • सभी को साथ लेकर चलना
  • आराम को कम काम को ज्यादा महत्व देना

कारोबारी को नरेंद्र मोदी की तरह ब्रांडिंग में माहिर होना चाहिए

कारोबार में सर्वाधिक महत्वपूर्ण होता है की आप अपने प्रोडक्ट को कैसे प्रस्तुत करते है? ब्रांडिंग का मतलब होता है- अपने प्रोडक्ट को अपने प्रतियोगियों के प्रोडक्ट से अलग और बेहतर साबित करते हुए पेश करना। आप जिस तरीके से अपने ब्रांड को प्रस्तुत करेंगे उसी के आधार पर मार्केट में आपके प्रोडक्ट की इमेज बनेगी। अगर इसे सरल शब्दों में कहें तो एक ब्रांड अपने ग्राहकों से बेहतरी का वादा करता है साथ ही बेहतर प्रोडक्ट और बेहतरीन सर्विस की उम्मीद जगाता है।

नई सरकार ने किया बिजनेस खोलना बहुत आसान, देनी होगी सिर्फ ये 4 जानकारियां

नरेंद्र मोदी का उदाहरण देखे तो जब नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनाव 2014 का प्रकार शुरु किया तब से ही उन्हें गुजरात का विकास पुरुष और देश का विकाश करने वाला नेता के तौर पर पेश किया जाने लगा।  गुजरात में हुए विकास का उदाहरण दिया गया। जनता ने सच माना। उन्हें वोट देकर विजयी बनाया। नरेंद्र मोदी ने देश के विकास के लिए कार्य किया यानी प्रोडक्ट के प्रति जनता का विश्वास जीता और दोबारा फिर से प्रधानमंत्री बन गए। ठीक यही चीज बिजनेस में संभव है।

नरेंद्र मोदी से सीखिए बिजनेस करना

कारोबार में जनसंपर्क/मार्केटिंग का है बहुत महत्व

बिजनेस कोई भी हो जबतक वह जनता की पहुंच में नहीं होगा, जब तक लोग उसे देखेंगे नहीं तब तक उसका विस्तार नहीं हो सकता है। जनसंपर्क ही वह जरिया है जिससे जनता के बीच अपने प्रोडक्ट का प्रचार किया जा सकता है। पब्लिक रिलेशन/मार्केटिंग करने के कई प्लेटफ़ॉर्म होते हैं। आजकल सोशल मीडिया बेहतर माध्यम है। नरेंद्र मोदी की के प्रधानमंत्री बनने में सोशल मीडिया का अहम योगदान है।

व्यवसाय में सफलता पाने के लिए होना चाहिए समय का पाबंद

समय का मूल्य धन से भी अधिक है होता है, यानी समय अमूल्य है। समय किसी का भी हो उसे जाया यानी बर्बाद नहीं करना चाहिए। बिजनेस में अगर आप समय के पाबंद है तो मार्केट में आपकी इमेज सकारात्मक बनती है। सकारात्मक इमेज कारोबार आगे बढ़ाने के लिए बेहद जरूरी है।

इस इसे इस तरह की समझा जा सकता है की अगर आप किसी ग्राहक को कोई सामान एक तय समय देने के लिए बोले हैं तो आपकी यह जिम्मेदारी बनती है की उस ग्राहक को उसी समय पर वह सामान मिलनी चाहिए। अगर ऐसा नहीं होता है तो नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

msme-loan-lene-ki-schemes?utm_source=Blogpost_CTA_Buttons&utm_medium=Hindi-BlogPost-Buttons&utm_campaign=msme-loan-lene-ki-schemes

नरेंद्र मोदी की तरह सभी को साथ लेकर चलना

कारोबार हो या राजनीति सभी को साथ लेकर चलना बहुत जरुरी होता है। अगर आपके कारोबार में कोई साथ काम करता है तो आपकी यह कोशिश होनी चाहिए की उसे कभी ऐसा न लगे की वह छोटा है या उसकी इज्जत नहीं की जा रही है। कारोबार बढ़ाने में यह तरीका बहुत कारगर होता है। इससे साथ काम करने वाले लोगों का मनोबल हमेशा बना रहता है और वह पूरे मन से काम करते हैं।

आराम को कम काम को ज्यादा महत्व देना

आप अकसर ऐसा टेलीविजन पर देख और सुन रहे होंगे की नरेंद्र मोदी 18 घंटे काम करते हैं। प्लेन में होते हुए भी कार्य करते हैं। कारोबारियों को भी अपने कार्य को प्राथमिकता पर रखना चाहिए। यह बिजनेस के लिए बेहतर तो होता ही है।

ZipLoan से कारोबार के लिए बिजनेस लोन 

ZipLoan’ फिनटेक क्षेत्र की प्रमुख NBFC यानी नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी है। ‘कंपनी द्वारा सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम कारोबारियों को लोन दिया जाता है। कारोबार बढ़ाने के लिए बेहद कम शर्तों पर 1 से 5 लाख तक का बिजनेस लोन सिर्फ 3 दिन में प्रदान किया जाता है।

ZipLoan से बिजनेस लोन पाने की शर्ते बहुत कम हैं

  • बिजनेस कम से कम 2 साल पुराना हो।
  • बिजनेस का सालाना टर्नओवर कम से कम 5 लाख तक का होना चाहिए।
  • पिछले साल भरी गई ITR डेढ़ लाख रुपये की हो या इससे अधिक की होनी चाहिए।
  • घर या बिजनेस की जगह में से कोई एक खुद के नाम पर होना चाहिए।

ZipLoan से बिजनेस लोन लेने के कई फायदे हैं

  • बिजनेस लोन की रकम अप्लाई करने के सिर्फ 3 दिन के भीतर मिल जाती है। (यह सुविधा जरुरी कागजी दस्तावेजों को उपलब्ध रहने पर मिलती है)
  • लोन के घर बैठे ऑनलाइन अप्लाई किया जा सकता है।
  • बिजनेस लोन की रकम 6 महीने बाद प्री पेमेंट फ्री है।
  • लोन की रकम 6 महीने से लेकर 36 महीने के बीच वापस कर सकते है।