पिछले 15 से 20 वर्षों में कारोबार करने वाली महिलाओं की संख्या में बहुत अधिक बढ़ोतरी हुई है | मार्केट में उपलब्ध महिलाओं के लिए बिजनेस लोन की सहूलियत ने महिलाओं को कारोबार करने के लिए प्रेरित किया है | वर्तमान समय में सरकार भी यह प्रयास कर रही है| महिलाएं अधिक से अधिक अपने पैरों पर खड़ी हो सके और आत्मनिर्भर बने इसीलिए कई योजनाओं में महिला कारोबारियों को प्राथमिकता दी जाती है|

कभी – कभी ऐसे भी सवाल उठते रहते हैं कि महिलाओं के लिए बिजनेस लोन लेना ठीक नही है| कुछ ऐसे लोगो द्वारा ऐसा भी सुना जा सकता हैं कि महिलाओं को बिजनेस के लिए बिजेनस लोन नही लेना चाहिए| लोगों का यह मानना होता है कि महिलाएं कर्ज के बोझ तले दब जाती हैं| लेकिन यह पूरी तरह सत्य नही है. इस ब्लॉग में यह जानेंगे की महिलाओं के लिए बिजनेस लोन सही है या नही|

महिलाओं के लिए बिजनेस लोन

महिला कारोबारियों को व्यापार में सहूलियत प्रदान करने के लिए और उन्हें आत्मनिर्भर बनाने के लिए कई स्तर पर प्रयास किया जा रहा है| सरकार मुद्रा स्कीम के जरिए को महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए बिजनेस लोन प्रदान करने में प्रमुखता प्रदान करती है| प्राइवेट सेक्टर में कई NBFC कंपनियां हैं जो महिलाओं को बिजनेस लोन प्रदान करती हैं|

ZipLoan से मिलता है सिर्फ 3 दिन में महिलाओं के लिए बिजनेस लोन

ZipLoan एक NBFC यानी गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी है| ZipLoan का लक्ष्य सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम सेक्टर के व्यपारियों को आसानी से बिजनेस लोन की सुविधा उपलब्ध कराना है| यहां हर उस कारोबारी को बिजनेस लोन मिल सकता जिनका बिजनेस न्यूनतम 2 साल पुराना हो, कारोबार का सालाना टर्नओवर कम से कम 5 लाख तक हो और पिछले साल कम से कम डेढ़ लाख की ITR भरी हो| इन न्यूनतम शर्तों को जो भी कारोबारी पूरा करते हैं उन्हें ZipLoan द्वारा 1 से 5 लाख तक का बिजनेस लोन सिर्फ 3 दिन में, बिना कुछ गिरवी रखे मिल जाता है|

महिलाओं-के-लिए-लोन

महिलाओं के लिए बिजनेस लोन सही या गलत?

बिजनेस लोन कभी गलत नही होता, यह उसके उपयोगकर्ता के ऊपर निर्भर करता है कि वह इस पैसों का कैसे इस्तेमाल करता है| जहां तक महिला कारोबारियों की बात है तो हमारे सामने कुछ ऐसी महिला कारोबारियों का उदाहारण सामने है जिन्होंने अपने कुशल मैनेजमेंट और लीडरशिप में अपने कारोबार को सफलता की बुलंदियों पर पहुँचाया है| इन महिला कारोबारियों में निशि वासुदेवा- सीएमडी,एचपीसीएल, पृथा रेड्डी- एमडी,अपोलो हॉस्पिटल, श्रेया मिश्रा ओनर- फ्लाईरोब फैशन इत्यादि|

महिलाओं के लिए बिजनेस लोन: विशेषताएं एवं फायदे

एक प्रसिद्ध कहावत है, “जिनको दरिया नजर आया वो इधर ही रह गए, जिनको मंजिल नजर आई वह दरिया उस पार थे. मतलब सीधा सा यह है कि किसी भी क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए आपको रिस्क उठाने ही होंगे. बिना रिस्क लिए आप आगे नही बढ़ सकते. जहां तक महिलाओं के लिए बिजनेस लोन की बात है तो यह किसी भी तरह गलत नही है. महिलाओं को जरूरत पड़ने पर बिजनेस लोन लेना चाहिए और अपने बिजनेस का विस्तार करना चाहिए.

क्या आपको यह लेख पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें। बिजनेस से जुड़ी कोई भी नई अपडेट या जानकारी पाने के लिए हमसे फेसबुकट्वीटर और लिंक्डन पर भी जुड़े।