5 जुलाई 2019 को देश की पहली पूर्णकालिक वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मोदी सरकार 2.0 की पहली बजट पेश किया। इस बजट में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम कारोबार के लिए भरपूर सहूलियत देने की बात कही गई है। वित्त मंत्री श्रीमती सीतारमण द्वारा पेश किये गए बजट में MSME के लिए बजट का भारी प्रावधान किया गया है। बजट की सबसे बड़ी घोषणा है: MSME उद्योग के लिए 59 मिनट के अंदर 1 करोड़ तक लोन स्वीकृति देना।

बजट भाषण देते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम कारोबार के लिए कई सैगातों की घोषणा किया गया है, प्रमुख घोषणाएं इस तरह हैं:

  • सिंगल विंडो ऑनलाइन पोर्टल खोलने का ऐलान किया गया है।
  • छोटे एवं मझोले उद्यमियों की सिर्फ 59 मिनट के अंदर 1 करोड़ का बिजनेस लोन देने की बात कही गई है।
  • सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों के लिए एक डेडिकेटेड ऑनलाइन पोर्टल खोलने की बात कही गई है।
  • दुकानदारों को भी बिजनेस लोन देने की बात कही गई है।
  • MSME के लिए नेशनल गेटवे बनाने की बात कही गई है।
  • GST पंजीकृत सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों को सिर्फ 3 प्रतिशत ब्याज पर बिजनेस लोन देने की घोषणा हुई है।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट भाषण देते हुए कहा कि MSME सेक्टर के लिए वित्त वर्ष 2019 – 2020 के लिए 350 करोड़ रूपये दिया जायेगा। सरकार द्वारा MSME के लिए पेमेंट प्लेटफ़ॉर्म बनाने के लिए प्रस्ताव भी पेश किया है। इस प्लेटफार्म के जरिए MSME बिल भुगतान और फाइलिंग समय पर करने में आसानी होगी।

जानिए बजट 2019 की क्या हैं खास – खास बातें

MSME सेक्टर में जॉब क्रिएशन के लिए निवेश पर जोर

वित्त मंत्री का कहना है कि वर्तमान में सरकार का जोर नई नौकरियां सृजित करने पर जोर है, इसके लिए बेहतरीन विकल्प MSME सेक्टर है। मंत्री ने कहा कि भारत में आने वाले समय में MSME सेक्टर सबसे अधिक नौकरियां प्रदान करने वाला क्षेत्र बनेगा।

स्टैंड अप इंडिया योजना के योगदान का किया उलेख्य

कारोबारियों के लिए सविधा के लिए सिंगल विंडो प्लेटफ़ॉर्म बन जाने से भुगतान में होने वाली देरी से बचा जा सकता है। बिलिंग प्लेटफ़ॉर्म के बनने से कारोबारी खुद से बिलों का भुगतान और फाइलिंग कर सकते हैं। स्टैंड अप इंडिया योजना के बारे में चर्चा करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि पिछले दो साल में 300 सौ से अधिक कारोबारी इस स्कीम से जुड़ चुके हैं, साथ ही यह भी बताया कि यह योजना फाइनेंस ईयर (2020-2025) के दौरान भी जारी रहेगी।

दुकानदारों के लिए पेंशन की घोषणा

वित्त मंत्री ने छोटे दुकानदारों के लिए पेंशन योजना का ऐलान किया है। पेंशन योजना के तहत देश के 3 करोड़ छोटे दुकानदारों को पेंशन देने की बात कही गई है। दुकानदारों के लिए इस योजना का लाभ मिलेगा जिनका सालाना टर्नओवर 1 करोड़ 50 लाख से कम है। यह योजना भारतीय जीवन बीमा निगम के सहायता से चलाई जानी है। योजना में न्यूनतम 3 हजार रूपये पेंशन देने की बात कही गई है।

किसानों और दुकानदारों के आये अच्छे दिन, केन्द्र सरकार देगी पेंशन

इस तरह देखें तो सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम कारोबारियों के लिए यह बजट सौगातों भरा है। कारोबारियों को अब अपने कारोबार में पैसों से संबंधित दिक्कतों का सामना नही करना पड़ेगा।

ZipLoan भी कर रहा है MSME सेक्टर के कारोबारियों की आर्थिक मदद

छोटे एवं मझोले कारोबारियों को ZipLoan 1 लाख से लेकर 5 लाख तक का बिजनेस लोन सिर्फ 3 दिन में प्रदान कर आर्थिक मदद कर रहा है। ZipLoan से उन सभी कारोबारियों को 1 से 5 लाख तक बिजनेस लोन मिल सकता है, जिनका बिजनेस कम से कम  2 साल पुराना हो, जो जिन्होंने पिछले साल डेढ़ लाख की ITR फाइल की हो और बिजनेस का सालाना टर्नओवर 5 लाख तक का होना चाहिए।