जब तक यह धरती रहेगी, तब तक लोगों को खाने – पीने की चीजों की जरूरत पड़ती रहेंगी। कहने का मतलब यह है कि इस पृथ्वी पर जिंदा रखने के लिए भोजन की जरूरत होगी। इसीलिए कहा जाता है कि खाने – पीने से जुड़े बिजनेस हमेशा चलता है।

बेकरी भी एक खाने – पीने से जुड़ा बिजनेस है। वर्तमान में बेकरी प्रोडक्ट की मांग इस कदर बढ़ गई है कि लोग बिना बेकरी प्रोडक्ट के एक दिन भी गुजारा नहीं कर सकते हैं। बेकरी प्रोडक्ट में ब्रेड से लेकर केक, पेस्ट्री, कुकीज़ और नमकीन तक आता है।

आपको जानकारी के लिए बता दें कि बेकरी व्यवसाय सबसे पुराने व्यवसायों में से एक है, क्योंकि यह व्यवसाय दैनिक जरूरतों को पूरा करने वाला व्यवसाय है। दुनिया भर में खानपान से जुड़े विभिन्न अन्य व्यवसायों के बीच बेकरी व्यवसाय सबसे पॉपुलर बिजनेस है।

बेकरी व्यवसाय शुरु करने के लिए बहुत अधिक धन की जरूरत नहीं होती है। लेकिन यह सत्य है आवश्यक धन की जरूरत पड़ती ही है। अगर किसी के पास बहुत अधिक धन न हो तो भी वह सीमित धन में बेकरी का बिजनेस शुरु कर सकते हैं। जब बिजनेस में मुनाफा होने लगे और बिजनेस कुछ साल पुराना हो जाये तो बिजनेस लोन की मदद से बिजनेस को बढ़ा सकते हैं।

आपको जानकारी के लिए बता दें कि देश की प्रमुख नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल बैंक (एनबीएफसी) ZipLoan द्वारा एमएसएमई कारोबारियों को 7.5 लाख तक का बिजनेस लोन, बिना कुछ गिरवी रखे, सिर्फ 3 दिन* में मिलता है। आइये समझते हैं कि बेकरी व्यवसाय योजना क्या है और इसका लाभ क्या है।

अभी बिजनेस लोन पाए

बेकरी का व्यवसाय शुरु करने के लिए योजना कैसे बनाते है?

बेकरी का व्यवसाय शुरु करने के लिए योजना खुद से तैयार करके बेकरी व्यवसाय शुरु किया जा सकता है। बेकरी की व्यवसाय योजना में यह तय किया जाता है कि बेकरी व्यवसाय के लिए तैयारी कैसे हो? मार्केट रिसर्च की जरूरत कितना है? इत्यादि बातों पर विचार किया जाता है।

बेकरी व्यवसाय के बारे में यह कहना कि बेकरी का बिजनेस शुरु करना बहुत आसान है! तो यह जल्दबाजी होगी। यह ध्यान देने वाली बात है कि बेकरी का बिजनेस स्थापित करने के लिए बेकरी मामलों के एक्सपर्ट की सहायता लेकर और टैक्नोलॉजी की मदद से मार्केट रिसर्च करना बहुत फायदेमंद होता है।

इसे भी जानिए: सिर्फ अपने शहर में बिजनेस का प्रचार कैसे करें ?

किसी भी बिजनेस को तभी सफल माना जाता है, जब बिजनेस के प्रोडक्ट को इस्तेमाल करने वाला ग्राहक खुश हो और प्रोडक्ट का उपयोग करता हो। तो ऐसे में बेकरी प्रोडक्ट का व्यवसाय करने में चुनौती बढ़ जाती है। खासकर इस बात का ध्यान रखना होता है कि जो चीज बन रही है, उस चीज को ग्राहक पसंद करें।

बेकरी का बिजनेस कैसे शुरु हो सकता है?

बेकरी का बिजनेस मुख्य रुप से निम्न चरणों से गुजर कर किया जा सकता है:

  • प्रोडक्ट रिसर्च
  • प्लानिंग
  • इंफ्रास्ट्रक्चर और लोकेशन
  • खर्च – उपयुक्त धन की आवश्यकता
  • व्यवसाय से आर्थिक लक्ष्यों की पूर्ति यानी लाभ की उम्मीद

बेकरी व्यवसाय के लिए प्रोडक्ट रिसर्च करना

आपको पहले यह जानना आवश्यक है कि ग्राहकों की जरूरत की तरह की है? ग्राहक किस तरह के बैकरी प्रोडक्ट पसंद करते हैं? यह जानने के लिए ग्राहक सर्वे कराना अनिवार्य होता है। ग्राहक सर्वे में ग्राहकों की पसंद और मांग के बारे में रिसर्च किया जाता है।

इसे भी जानिए: कम पैसे में बिजनेस कैसे करें?

प्रोडक्ट रिसर्च के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म का उपयोग किया जा सकता है। इसके अतिरिक्त रिसर्च करने के लिए दुकानदारों से संपर्क किया जा सकता है। दुकानदार यह बताने में सक्षम होते हैं कि ग्राहकों की जरूरतें किस प्रकार की होती है।

बेकरी व्यवसाय के लिए प्लानिंग करना

किसी भी बिजनेस के लिए प्लानिंग करना सबसे महत्वपूर्ण होता है। बेकरी व्यवसाय के लिए प्लानिंग करना बहुत आवश्यक होता है। जब प्रोडक्ट रिसर्च में यह पता चल जाए कि ग्राहकों की मांग किस तरह की है और ग्राहक आखिर किस तरह बेकरी प्रोडक्ट चाहते हैं तो अब इसपर प्लानिंग करना होता है।

इसे जानिए: अपने बिजनेस का विकास कैसे करें?

प्लानिंग करना मतलब है प्रोडक्ट की निर्माण प्रक्रिया और प्रोडक्ट का कागजी आकार देना। प्लानिंग में यह तय करना होता है कि बेकरी का कितना प्रोडक्ट बनेगा, प्रोडक्ट का आकार क्या होगा, प्रोडक्ट का मूल्य कितना रखा जायेगा, प्रोडक्ट को बेचा कैसे जायेगा इत्यादि। मतलब प्लानिंग में ही प्रोडक्ट के बारे में सब-कुछ डिसाइड हो जाता है।

बेकरी व्यवसाय के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर और लोकेशन

अगर किसी भी बिजनेस का खांका सिर्फ कागजों पर हो या सिर्फ दिमाग में हो तो क्या वह बिजनेस कभी मुनाफा दे सकता है? उत्तर होगा- कभी भी नहीं। ऐसा नहीं हो सकता है। तो मार्केट रिसर्च, प्लानिंग के बाद नंबर आता है- इंफ्रास्ट्रक्चर और लोकेशन के निर्धारण का।

बेकरी व्यवसाय स्थापित करने के लिए अगला कदम इंफ्रास्ट्रक्चर और लोकेशन तय करना है होता। किसी भी व्यवसाय को स्थापित करने के लिए मुख्यतः दो विकल्प होते हैं। पहला बड़े स्तर पर और दूसरा छोटे स्तर पर। ठीक बेकरी व्यवसाय के साथ भी यही है।

इसे भी जानिए: बिजनेस लोन के लिए कितना सिबिल स्कोर होना चाहिए? जानिए

बेकरी का व्यसाय या तो बड़े स्तर पर शुरु किया जा सकता है या छोटे स्तर है। व्यवसाय छोटा होगा या बड़ा यह कारोबारी के आर्थिक हालत और मौजूदा संसाधनों पर निर्भर करता है। कारोबारी को चाहिए कि वह अपने पास उपलब्ध संसाधनों के आधार पर बेकरी व्यवसाय के इंफ्रास्ट्रक्चर और लोकेशन का चुनाव करें।

किसी भी व्यवसाय के लिए कई विकल्प होते हैं, जैसे कि एक बड़े रिटेल–आधारित बेकरी या व्यस्त सड़कों में एक छोटी बेकरी प्लानिंग में बेकरी या रेस्टोरेंट के लिए इन–हाउस कैफे भी शामिल हो सकता है, जो किसी विशेष क्षेत्र में अधिक लोकप्रिय है

बेकरी व्यासाय में खर्च – उपयुक्त धन की आवश्यकता

स्वाभाविक तौर पर किसी भी बिजनेस को शुरु करने के लिए धन की जरूरत होती है। मतलब बिजनेस शुरु करने और उसे चलाने में पैसा खर्च होता है। ऐसे में कारोबारी को धन का मुकम्मल इंतजाम किये रहना चाहिए।

बेकरी व्यवसाय को शुरु करने में सबसे महत्वपूर्ण स्टेप्स में से एक फूड एंड बेवरेज अनुभव के साथ कुशल कर्मचारियों को नियुक्त करना है। कुशल कर्मचारियों को काम पर रखने के लिए उपयुक्त पैसों की भी जरूरत पड़ती है। इसके साथ ही बिजनेस में हर रोज खर्च होने वाले वर्किंग कैपिटल की भी जरूरत होती है।

इसे भी जानिए: अपने बिजनेस प्रोडक्ट को ऑनलाइन कैसे बेचे?

बिजनेस में इन इन तरह के सभी खर्चों को पूरा करना जरूरी होता है। अगर खर्चे पूरे नहीं होंगे या कर्मचारियों की सैलरी समय पर नहीं मिलेगी तो कर्मचारी नौकरी छोड़कर चले जायेंगे। इससे बिजनेस प्रभावित होगा। अगर किसी कारोबारी के पास पर्याप्त धन नहीं है, उन्हें बिजनेस लोन लेने की सलाह दी जाती है।

बिजनेस बढ़ाने के लिए ZipLoan से मिलता है सिर्फ 3 दिन* में बिजनेस लोन

फिनटेक क्षेत्र की प्रमुख नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी (एनबीएफसी) ZipLoan द्वारा कारोबारियों की आर्थिक समस्या को समझा जाता है। कारोबारियों की आर्थिक जरूरत को देखते हुए ZipLoan द्वारा सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम श्रेणी यानी एमएसएमई कारोबारियों को 7.5 लाख तक का बिजनेस लोन,  सिर्फ 3 दिन* में, बिना कुछ गिरवी रखे प्रदान किया जाता है।

न्यूनतम पात्रता पर बिजनेस लोन 

ZipLoan कंपनी द्वारा इस बात को समझा जाता है कि बिजनेस लोन की पात्रता की शर्ते अधिक लगाने से जरूरतमंद कारोबारी बिजेनस लोन प्राप्त करने से वंचित रह जायेंगे। इसीलिए ZipLoan से बिजनेस लोन पाने की शर्ते न्यूनतम रखी गई हैं। शर्ते निम्न हैं:

  • बिजनेस 2 साल से अधिक पुराना होना चाहिए।
  • बिजनेस का सालाना टर्नओवर 10 लाख से अधिक होना चाहिए।
  • सालाना आईटीआर 1.5 लाख से अधिक फाइल होनी चाहिए।
  • घर या बिजनेस की जगह में से कोई एक खुद के नाम पर होना चाहिए। (यह ब्लड रिलेटिव जैसे माता – पिता, भाई – बहन, पति – पत्नी, पुत्र – पुत्री में से किसी के नाम पर होगा तो भी मान्य किया जाता है।)

न्यूनतम कागजातों पर लोन

ZipLoan द्वारा सिर्फ 4 कागजातों पर बिजनेस लोन प्रदान किया जाता है। ये 4 कागजी दस्तावेज निम्न हैं:

  1. पैन कार्ड
  2. पिछले 9 महीने का बैंक स्टेटमेंट
  3. आईटीआर की कॉपी
  4. घर या बिजनेस की जगह में से किसी एक के मालिकाना हक का प्रूफ (यह ब्लड रिलेटिव जैसे माता – पिता, भाई – बहन, पति – पत्नी, पुत्र – पुत्री में से किसी के नाम पर होगा तो भी मान्य किया जाता है।