वर्तमान में इंटरनेट की पहुंच लगभग सभी लोगों के पास हो गई है। इसका सबसे बड़ा लाभ यह हुआ की की पूरी दुनिया एक – दुसरे से कनेक्ट हो गई है। पिछले कुछ वर्षों से रिटेल यानी खुदरा बाजार में भी इंटरनेट ने अपनी दखल बढ़ा दी। कुछ समय से ऑनलाइन शापिंग का चलन बढ़ गया है।

इसका कारण है ग्राहक को घर बैठे अपने मनमुताबिक सामान की चाह रखना। ऑनलाइन खरीदारी करवाने वाली कंपनियां इस सुविधा को निरंतर ग्राहक के मुताबिक करती जा रही है जिससे यह मार्केट बहुत बड़ा होता जा रहा है।

भविष्य में भी इसके बढ़ते रहने के ही संभवना है। क्या आप जानते है की आप अपना प्रोडक्ट भी घर बैठे ऑनलाइन बेच सकते है? इस समय कई ऐसे ई कॉमर्स साइट्स हैं जिसपर आप अपना सामान बेच सकते है।

अमेजन भी इसी तरह की एक ऑनलाइन साईट है। यह सभी तरह के व्यापारियों को अपना सामान बेचने के लिए अपना प्लेटफार्म उपलब्ध कराती है। आइए जानते है की कैसे आप अमेजन से जुड़कर घर बैठे अपने सामान बेच सकते है:

Table of Contents

सबसे पहले रजिस्ट्रेशन करें

एक विक्रेता के तौर पर अमेजन में साइन अप करने के दौरान दो तरह के विकल्प प्राप्त होते हैं। कोई व्यक्ति या तो अपना खुद का खाता (इंडीविजुअल अकाउंट) बना के या व्यावसायिक विक्रेता खाता (प्रोफेशनल सेलर अकाउंट) बना के अपना व्यापार आरंभ कर सकता है। हालाँकि इन दोनों तरह के खाता की अपनी सीमाएं और विशेषताएँ हैं। इस कारण किसी भी व्यक्ति को अपने व्यापार के अनुसार खाता चुनना चाहिये।

बिजनेस लोन के लिए अप्लाई करें

सामान कैसे बेच सकते है?

अमेजन वेबसाइट खोलते ही हमारे सामने कई तरह के अलग अलग सामान होते हैं।  कई बार कोई नया व्यक्ति इसे देखता है, तो उसे लगता है कि ये सारे सामान अमेजन के खुद के हैं। पर ऐसा नहीं है, अमेजन भी अपने कई सामान इस साईट से बेचता है लेकिन उसके अलावा दूसरी कंपनियाँ भी अपने सामान यहाँ से बेचती हैं।

अमेजन अपने सामान के रूप में अधिकतर अमेजन इको स्पीकर, टेबलेट्स, विभिन्न तरह के घरेलु सामान बेचता है। इनकी वेबसाइट की सूची पर गौर करने से आपको ये पता चल जाएगा कि सारे सामान अमेजन ब्रांड के नहीं होते।  उदाहरण स्वरुप अमेजन पर सैमसंग के फोन बिकते हैं, लेकिन सैमसंग और अमेजन के बीच कोई प्रत्यक्ष संबंध नहीं होता।

इसे भी जानिए: किराना स्टोर का ऐसे कर सकते हैं विस्तार! जानिए तरीका

इसलिये कोई भी व्यक्ति जो 18 वर्ष से अधिक हो, अमेजन विक्रेता बन सकता है। यदि आप अपना कोई सामान अमेजन पर बेचना चाहते हैं तो बेच सकते हैं, किन्तु बदले में अमेजन आपके प्रत्येक सेल में से अपना कुछ हिस्सा (कमीशन) लेगा, इस तरह से अमेजन को लाभ प्राप्त होता है।

See also  फार्मास्यूटिकल क्या है और इस सेक्टर में बिजनेस कैसे कर सकते हैं?

अमेजन के तरफ से व्यापारियों को सुविधा

अमेजन अपने व्यापारियों को तरह तरह की सुविधाएँ प्रदान करती है, जिससे व्यापार में होने वाली परेशानियाँ कम हों। ‘एफ.बी.ए’ अमेजन द्वारा अपने व्यापारियों के लिए चलाया गया एक सुविधाजनक प्रोग्राम है।

इस प्रोग्राम के तहत व्यापारी अपने सामान अमेजन को भेज देता है, जिसके रख रखाव और ग्राहकों को डिलीवरी की ज़िम्मेदारी अमेजन की होती है। इस काम के बदले में अमेजन कुछ पैसे कमीशन के तौर पर लेता है।

बहुत से व्यापारी अमेजन द्वारा चलाये गए इस प्रोग्राम का हिस्सा बन जाते हैं। ताकि वे डिलीवरी की ज़िम्मेदारी से मुक्त हो जाएँ। एक ‘एफ.बी.ए विक्रेता’ होने के नाते व्यापारी को बस अपना सामान अमेजन के किसी गोदाम तक पहुँचाना होता है। इसके बाद एक तरफ व्यापारी अपने सामान बेचता है और दूसरी तरफ अमेजन सामान डिलीवरी करते रहता है।

यह भी पढ़ें:- Ease of doing business में भारत को शीर्ष 50 देशों में पहुंचाने के लिए PM मोदी ने रखा लक्ष्य

FBA प्रोग्राम के लाभ क्या – क्या है?

  • एफबीए विक्रेता अपने सामान के लिए अमेजन का ‘प्राइम लोगो’ इस्तेमाल कर पाते हैं। इस लोगो से ग्राहकों का आपके सामान पर भरोसा बढ़ने लगता है।
  • इस प्रोग्राम की वजह से ‘सर्च रिजल्ट’ में आपके सामान की रैंकिंग बेहतर हो पाती है, ताकि इन्टरनेट में ढूढने के दौरान आपका सामान सामने आ सके।
See also  5 बिज़नेस बुक्स जो हर किसी को पढ़ना चाहिए

इस प्रोग्राम की सबसे बड़ी खूबी ये है कि अमेजन डिलीवरी नेटवर्क को सुचारू रूप से चलाये रखता है। इससे ग्राहक को तय समय पर उनके खरीदे गये सामान मिल जाते हैं।

बदले में अमेजन कितनी फीस लेगा?

इस प्रोग्राम की फीस अमेजन दो रूप में लेता है। पहला ‘फुलफिलमेंट फीस’ और दूसरा ‘मंथली स्टोरेज फीस’। फुलफिलमेंट फीस के अंतर्गत अमेजन पैकिंग, शिपिंग आदि के पैसे लेता है जबकि मंथली स्टोरेज फीस के अंतर्गत आपके सामान को अपने वेयरहाउस में रखने के पैसे लेता है।

अभी बिजनेस लोन पाए

एफबीए की कुल खर्च आपके सामान पैकेज के डायमेंशन पर निर्भर करती है। इसके अलावा अमेजन आपसे इस प्रोग्राम के अंतर्गत लेबलिंग फीस, लॉन्ग-टर्म स्टोरेज, रिटर्न प्रोसेसिंग, स्टॉक रिमूवल फीस आदि वसूल कर सकता है।

इसे भी जानिए: बिजनेस में किस तरह की गलतियां नहीं करना चाहिए? जानिए