जिस प्रकार नौकरी करने वाले लोगो चाहते हैं कि उनकी सैलरी बढ़े ठीक उसी प्रकार बिजनेस करने वाले कारोबारियों का चाहत होती है कि उनका बिजनेस बड़ा हो। बिजनेस का विस्तार हो और बिजनेस में मुनाफा बढ़ें।

बिजनेस बड़ा करने के लिए बिजनेस में अधिक सामान रखने की आवश्यकता होती है। अगर बिजनेस मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर का है तो आधुनिक मशीन रखना होता है। और संभव है कि कुछ नये कर्मचारी रखने की भी जरुरत हो।

इन सभी जरुरतों को पूरा करने के लिए आवश्यकतानुसार धन की जरुरत होती है। बड़े कारोबारियों के साथ धन का दिक्कत नहीं आती है, क्योंकि वह अपनी कोई प्रॉपर्टी गिरवी रखकर टर्म लोन ले लेते हैं। लेकिन बिजनेस बड़ा करने में असल धन की समस्या एमएसएमई कारोबारियों के साथ आती है।

इसे भी जानिएः टर्म लोन क्या होता है?

एमएसएमई सेक्टर का कारोबारियों की आर्थिक दिक्कतों को देखते हुए केंद्र सरकार की तरफ से बिजनेस लोन की कई सरकारी योजना चलाई जा रही है। इसी के साथ सरकार द्वारा यह भी ध्यान रखा गया है कि कारोबारियों को लोन लेने के लिए बहुत अधिक कागज न जुटाना पड़े।

केन्द्र सरकार द्वारा जो लोन की योजना चलाई जा रहीं हैं, उनमें प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना प्रमुख है। इस सरकारी योजना में बिजनेस का विस्तार करने के लिए लोन प्रदान किया जाता है।

इसे भी जानिएः प्रधानमंत्री मुद्रा लोन के लिए अप्लाई कैसे करते है

खास बात यह है कि इस योजना के तहत बिजनेस लोन के लिए आधार कार्ड अनिवार्य होता है। इसी के साथ जानकारी के लिए बता दें कि बिज़नेस बड़ा करने के लिए ZipLoan से 7.5 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन, बिना कुछ गिरवी रखे, सिर्फ 3 दिन* में मिलता है।

अभी बिजनेस लोन पाए

आईये समझते हैं कि आधार कार्ड से मुद्रा लोन योजना और और Start-up India योजना में लोन  कैसे मिलता है।

मुद्रा लोन योजना क्या है?

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत देश के एमएसएमई कारोबारियों को तीन कैटेगरी में 10 लाख तक का बिजनेस लोन बिना कुछ गिरवी रखे प्रदान किया जाता है।

मुद्रा लोन योजना को प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) के नाम से भी जाना जाता है। मुद्रा लोन योजना का पूरा नाम माइक्रो यूनिट डेवलपमेंट रीफाइनेंस एजेंसी (Micro Units Development Refinance Agency) है।

मुद्रा लोन योजना में कितना लोन मिलता है?

तीन कैटेगरी में 10 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन मिलता है। मुद्रा लोन का उपयोग नया बिजनेस स्थापित करने के लिए और पहले से चल रहे बिजनेस को बड़ा करने मे किया जा सकता है।

  • शिशु लोन – 50 हजार तक का बिजनेस लोन
  • किशोर लोन – 50 हजार से 5 लाख तक का बिजनेस लोन
  • तरुण लोन – 5 लाख से 10 तक का बिजनेस लोन

मुद्रा लोन की पात्रता

  • मुद्रा लोन के लिए अप्लाई करने वाला कारोबारी की नागरिकता भारतीय हो।
  • मुद्रा लोन का उपयोग गैर-कृषि कारोबार के लिए किया जाना हो।
  • जिस भी कारोबार के लिए मुद्रा लोन लेना हो, वह कॉरपोरेट संस्था नहीं होनी चाहिए।
  • बिजनेसमैन के पास मुद्रा लोन का उपयोग करने का प्रोजेक्ट तैयार हो।

आधार कार्ड से मुद्रा लोन इन बिजनेस को मिल सकता 

  • प्रोपराइटरशिप फर्म
  • पार्टनरशिप फर्म
  • छोटी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट
  • सर्विस सेक्टर कंपनी
  • दुकानदार
  • फल-सब्जी विक्रेता
  • ट्रक/कार ड्राईवर
  • होटल मालिक
  • रिपेयर शॉप
  • मशीन ऑपरेटर
  • छोटे उद्योग
  • फ़ूड प्रोसेसिंग यूनिट
  • ग्रामीण एवं शहरी इलाके का कोई अन्य ग्रामोद्योग

आधार कार्ड से मुद्रा लोन लेने के लिए इन डाक्यूमेंट्स की जरूरत पड़ती है

जिन भी कारोबारियों का बिजनेस उपरोक्त में से कोई एक बिजनेस है, वह मुद्रा लोन पाने की पात्रता रखते हैं। जब कारोबारी मुद्रा लोन के लिए पात्र हो जाते हैं, तब उन्हें मुद्रा लोन के लिए अप्लाई करते समय आधार कार्ड के साथ ही कुछ और जरूरी कागजी दस्तावेजों जरुरत होती है।

  • 2 फोटो
  • पहचान पत्र के लिए आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर कार्ड, पासपोर्ट, बैंक पासबुक, ड्राइविंग लाइसेंस इत्यादि में से किसी एक की फोटोकॉपी । यहां इस बात का ध्यान रखना होगा कि आप जो भी पहचान पत्र की फोटोकॉपी दे रहे हैं उसपर खुद का हस्ताक्षर करके ही देना होता है।
  • पता प्रमाण पत्र के लिए सरकार द्वारा जारी कोई भी प्रमाण पत्र जिससे यह साबित होता है कि आप उस पते पर रहते हैं, जैसे- आधार कार्ड, निवास प्रमाण पत्र, बिजली बिल, पानी की बिल इत्यादि। इस कॉपी पर भी खुद का हस्ताक्षर करना होगा।
  • बैंक स्टेटमेंट की कॉपी – यह कम से कम 3 महीने की होना चाहिए
  • जाति प्रमाण पत्र की कॉपी (अगर आप आरक्षित जाति से हैं और उसका लाभ उठाना चाहते हैं तब इसकी जरूरत पड़ेगी)
  • कारोबार के पता का प्रमाण पत्र – कारोबार का पहचान व पते का प्रमाण अपने कारोबार से संबंधित लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट या अन्य कोई दस्तावेज जमा करना होगा। यह इस बात का प्रमाण है कि आप उस बिजनेस के मालिक हैं।
  • इन्वेंटरी खरीद करने का बिल की कॉपी (यह तब लागू होता है, कारोबार बढ़ाने के लिए मुद्रा लोन लिया जाता है)

आधार कार्ड से मुद्रा लोन अप्लाई करने का प्रोसेस

मुद्रा लोन के लिए अप्लाई करने के लिए सबसे अपने अपने नजदीकी उस बैंक या फाइनेंशियल कंपनी का पता करना होता है जहां से मुद्रा लोन मिलता है।

बैंक या कंपनी पता लगाने के बाद उस बैंक या कंपनी में जाकर मुद्रा लोन का फॉर्म लेना होता है। फॉर्म लेकर उसे अच्छी तरह भरना होता है। फॉर्म भरने के बाद सभी जरूरी कागज़ी दस्तावेज अटैच करके फॉर्म बैंक या फाइनेंशियल कंपनी में जमा कर देना होता है।

मुद्रा लोन फॉर्म जमा करने के बाद रेगुलर तौर यह पता लगाते रहना होता है कि आपके लोन एप्लीकेशन का क्या प्रोसेस है। इस तरह आप मुद्रा लोन के रुप में बिजनेस लोन लेकर अपना बिजनेस शुरु कर सकते हैं।

बिना कोलैटरल बिजनेस लोन्स