भारत में युवाओं के लिए बिजनेस करने का बहुत ही बेहतरीन मौका है। देश के युवाओं को बिजनेस करने के लिए केन्द्र सरकार हर स्तर पर प्रयास कर रही है। इसी क्रम में आइये समझते हैं कि 20 से 30 साल के युवाओं को बिजनेस लोन कैसे मिल सकता है।

बिजनेस लोन दो तरह का होता है। पहला है प्रॉपर्टी गिरवी रखने के बदले लोन और दूसरा है – बिना कुछ गिरवी रखे बिजनेस लोन। दोनों का अपना महत्व है इस ब्लॉग में समझेगें कि कैसे मिलता है बिना कुछ गिरवी रखे बिजनेस के लिए लोन।

भारत देश अपनी प्राचीन संस्कृति और धर्मनिरपेक्षता के मामले समृद्ध देश है। एक लाइन में कहें तो भारत में सर्वजन हिताय – सर्वजन सुखाय की उक्ति का पालन होता है। यहां जनसँख्या की बात करें तो यह संख्या 1 अरब 30 करोड़ के आप – पास है। इतनी बड़ी जनसँख्या वाला देश में व्यापर व्यापक यानी बड़े स्तर पर होता है।

भारत में व्यापर की बात करें तो यहां पर कारोबार करने का इतिहास बहुत पुराना है। भारत कारोबारियों के लिए इतनी मुनाफिक जगह है कि यहाँ पर ब्रिटिश कारोबार करने आये और भारत पर 300 से अधिक सालों तक राज किये। आपको जानकारी के लिए बता दें कि अंग्रेज भारत में मशालों का कारोबार करने के लिए आये थे।

इसे भी जानिए- बिजनेस में किस तरह की गलतियां नहीं करना चाहिए? जानिए

अपने देश में बड़े कारोबार के साथ ही साथ सूक्ष्म, लघु और माध्यम कारोबार भी बहुत बड़ी संख्या में मौजूद हैं। लघु और मध्यम उद्योग यानी स्माल और मीडियम बिजनेस का हमारे देश की अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण योगदान है। सूक्ष्म, लघु एवं माध्यम उद्योग (एमएसएमई) सेक्टर कृषि (एग्रीकल्चर) के बाद सर्वाधिक रोजगार प्रदान करने वाला क्षेत्र है।

See also  बिजनेस में कामयाबी चाहते है? तो छोड़ना पड़ेगा इन आदतों को

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (एमएसएमई) देश की जीडीपी का लगभग 8 फीसदी, मैनुफैक्चरिंग प्रोड्क्शन (विनिर्माण उत्पादन) का 45 प्रतिशत और एक्सपोर्ट (निर्यात) में 40 प्रतिशत योगदान देते हैं। एमएसएमई सेक्टर उद्यमशीलता और नवीनता के लिए एक नर्सरी है। ये कारोबार देशभर में व्यापक रूप से फैले स्थानीय बाजारों की जरूरत को पूरा करते हैं।

लेकिन कभी – कभी ऐसा भी होता है कि इन उद्योग क्षेत्र यानी एमएसएमई सेक्टर की जब आर्थिक सहायता की जरूरत होती है तब इनको ठीक समय पर सहायता नही मिल पाती है। इस वजह से लघु कारोबारियों को अपना बिजनेस बढ़ाने में आर्थिक समस्या का सामना करना पड़ता है। इसी समस्या को को समाप्त करने के लिए ZipLoan कंपनी द्वारा लघु कारोबारियों को 1 से 7.5 लाख तक का बिजनेस लोन सिर्फ 3 दिन* में प्रदान किया जाता है।

बिना प्रॉपर्टी गिरवी रखे बिजनेस लोन क्या होता है? – What is Secured Business Loan

बिजनेस लोन 2 तरह का होता है। एक है प्रॉपर्टी गिरवी रखने के बदले लोन के रुप में धन मिलता है। दूसरा है बिना प्रॉपर्टी गिरवी रखे बिजनेस लोन। बिना कुछ गिरवी रखे बिजनेस का अर्थ है कि बिजनेस लोन पाने के लिए प्रॉपर्टी या कुछ भी गिरवी रखने की जरूरत नही पड़ती है।

कारोबारी बिजनेस लोन का उपयोग अपना बिजनेस बढ़ाने के लिए और जरूरी उपकरण या मशीनरी खरीदने के लिए करते हैं। लघु और मध्यम कारोबारियों के सामने समस्या तब आती है जब उनसे बिजनेस लोन के बदले प्रॉपर्टी या दुकान गिरवी रखने की मांग की जाती है।

See also  अपना बिज़नेस बढ़ाये ZipLoan मशीनरी लोन के साथ

छोटे और मध्यम कारोबारी के पास इतनी प्रॉपर्टी नही होती कि वह उसको गिरवी रखकर बिजनेस लोन ले या यह भी हो सकता है कि छोटे एवं मध्यम कारोबारी अपनी प्रॉपर्टी गिरवी नही रखना चाहते हो। दूसरी बड़ी समस्या तब आती है जब कारोबारी से बिजनेस लोन के लिए तमाम तरह के कागजी दस्तावेजों की मांग की जाती है। ऐसी स्थिति में छोटे और मध्यम कारोबारी अपने बिजनेस का विस्तार कैसे करेंगे?

इसे भी जानिए- भारतीय व्यवसायियों को इन 10 बातों में करना चाहिए सुधार

यह तो नही हो सकता कि कारोबारी इन सभी समस्याओं के चलते अपने बिजनेस का विस्तार ही न करें। तो ऐसी स्थिति में काम आता है बिना कुछ गिरवी रखे बिजनेस लोन। बिना कुछ गिरवी रखे बिजनेस लोन अधिकतर नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कम्पनियां (एनबीएफसी) द्वारा दिया जाता है। एनबीएफसी फिनटेक कंपनी होने के चलते बिजनेस लोन की प्रक्रिया बहुत तेजी से पूरी करती हैं।

बिना कुछ गिरवी रखे बिजनेस लोन की पात्रता

लोन देने वाली सभी कंपनियों की पात्रता अलग – अलग होती है। लेकिन कुछ ऐसी पात्रता होती है जिनकी मांग सभी कम्पनियां करती हैं। बिना कुछ गिरवी रखे बिजनेस लोन की पात्रता निम्न होती हैं:

  • बिजनेस कम से कम 2 साल पुराना होना चाहिए
  • कारोबार में सालाना इनकम 5 लाख से अधिक होना चाहिए
  • बिजनेस की आईटीआर फाइल होनी चाहिए (कम से कम 1 लाख 50 हजार)
  • बिजनेस की जगह या घर की जगह में कोई एक खुद के नाम पर होना चाहिए
  • बिजनेस का करेंट बैंक खाता होना चाहिए
  • बिना कुछ गिरवी रखे बिजनेस लोन पाने के लिए बेहतर क्रेडिट स्कोर होना चाहिए
See also  बदला नियम: चेक बाउंस के हर मामले में नहीं हो सकता मुकदमा

सिबिल स्कोर यानी क्रेडिट स्कोर बिना कुछ गिरवी रखे बिजनेस लोन पाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसे आप इस तरह भी समझ सकते हैं कि क्रेडिट स्कोर से ही यह तय होता है कि बिजनेस लोन मिलेगा या नही। अगर बात करें कि एक बेहतर क्रेडिट स्कोर कितना होता है तो इस सवाल का उत्तर है – 700 से ऊपर क्रेडिट स्कोर होने पर बेहतर क्रेडिट स्कोर माना जाता है।

ZipLoan से मिलता है 1 से 7.5 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन

‘ZipLoan’ फिनटेक क्षेत्र की प्रमुख NBFC यानी नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी है। ‘ZipLoan’ कंपनी द्वारा सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम कारोबारियों को कारोबार बढ़ाने के लिए बेहद कम शर्तों पर 1 से 5 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन सिर्फ 3 दिन* में प्रदान किया जाता है।

ZipLoan से बिजनेस लोन पाने की शर्ते बहुत कम हैं

  • बिजनेस कम से कम 2 साल पुराना हो।
  • बिजनेस का सालाना टर्नओवर कम से कम 10 लाख से अधिक का होना चाहिए।
  • पिछले साल भरी गई ITR डेढ़ लाख रुपये की हो या इससे अधिक की होनी चाहिए।
  • घर या बिजनेस की जगह में से कोई एक खुद के नाम पर होना चाहिए।
  • बिजनेस लोन की रकम अप्लाई करने के सिर्फ 3 दिन* के भीतर मिल जाती है। (यह सुविधा जरुरी कागजी दस्तावेजों को उपलब्ध रहने पर मिलती है)

ZipLoan से बिजनेस लोन लेने के फायदे

  • लोन घर बैठे ऑनलाइन अप्लाई किया जा सकता है।
  • बिजनेस लोन की रकम 6 महीने बाद प्री पेमेंट फ्री है।
  • लोन की रकम 12 से लेकर 36 महीने के बीच वापस कर सकते है।
  • 9 EMI ठीक समय से जमा होने के बाद टॉप लोन मिलने की सुविधा है।

 

business loan on whatsapp